Home झारखंड झारखंड के बोकारो में 2 नये कोरोना पॉजिटिव मिले, राज्य में कोरोना से दूसरी मौत

झारखंड के बोकारो में 2 नये कोरोना पॉजिटिव मिले, राज्य में कोरोना से दूसरी मौत

2 second read
0
0
358

झारखंड में रविवार को कोरोनावायरस से संक्रमित दो नये मरीज मिले हैं. दोनों बोकारो जिले के गोमिया के हैं. जानकारी के अनुसार दोनों गोमिया के साड़म के बताये जा रहे हैं. अब झारखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या 19 हो गयी है. इनमें दो लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य में कोरोना से पहली मौत बोकारो में ही हुई है, जबकि दूसरी मौत रांची में हुई है. मृतक हिंदपीढ़ी से बरामद राज्य की दूसरी कोरोना संक्रमित महिला का पति था. बोकारो में जिसकी मौत हुई है वह साड़म का ही रहने वाला था. अब तक रांची के हिंदपीढ़ी से आठ, बोकारो से आठ, हजारीबाग से दो और गिरिडीह से एक कोरोना पॉजिटिव मरीज के मिलने की पुष्टि हो चुकी है.

आपको बता दें कि बोकारो में अभी भी 120 कोरोना संदिग्ध है, जिनकी जांच रिपोर्ट आनी अभी बाकी है. ये वही लोग हैं जो साड़म के कोरोनो संक्रमित शख्स के संपर्क में आये थे. रांची में जिस मरीज की मौत हुई है उसे डायिबिटीज के अलावा हाइपरटेंशन और कार्डियोमायोपैथी की भी समस्या थी. स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव नितिन मदन कुलकर्णी ने बताया कि दो दिन से इस मरीज की हालत गंभीर थी. उसे वेंटिलेटर पर रखा गया था.

शख्स को 6 अप्रैल, 2020 को कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद रिम्स में उसकी पत्नी और दो बच्चों के साथ भर्ती कराया गया था. 9 अप्रैल, 2020 को उसकी हालत बिगड़ने लगी. इसके बाद से वह वेंटिलेटर पर डाल दिया गया था. 12 अप्रैल को सुबह करीब 9 बजे उसने दम तोड़ दिया. कोविड-19 अस्पताल के डॉक्टरों के अनुसार, कोरोना पॉजिटिव महिला को छह अप्रैल को एंबुलेंस से अस्पताल लाया गया था. उस समय उनके पति भी साथ थे और पूरी तरह स्वस्थ दिख रहे थे.

पत्नी को कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराने के बाद महिला के पति समेत परिवार के सात सदस्यों के साथ पेइंग बिल्डिंग में बने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर लिया गया था. तीन दिन बाद परिवार के पांच सदस्यों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आयी, इनमें महिला के पति, तीन बेटे और एक पोता शामिल थे. सभी को तत्काल कोविड-19 अस्पताल में भर्ती करा दिया गया. वहीं, शेष दो सदस्य बहू और एक पोते को आइसोलेशन वार्ड में ही रखा गया. रविवार को इन दोनों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है.

यह परिवार तबलीगी जमात से जुड़ी मलयेशिया की युवती के संपर्क में आने से संक्रमित हुआ था. मलयेशियाई युवती झारखंड की पहली कोरोना पॉजिटिव मरीज थी. झारखंड में पहला केस 31 मार्च को राजधानी के हिंदपीढ़ी से सामने आया था. जहां 22 साल की एक मलयेशियाई महिला में कोरोना की पुष्टि हुई थी. महिला तबलीगी जमात में शामिल हुई थी और कई दिनों से हिंदपीढ़ी में रह रही थी. पुलिस को मिली सूचना के बाद उसे क्वारंटाइन में भेज कर जांच करायी गयी थी, जिसमें उसके पॉजिटिव होने की बात सामने आयी थी. जिसके बाद संक्रमित महिला को रिम्स के आइसोलेशन वार्ड में इलाज के लिए भर्ती किया गया है.

Load More By Bihar Desk
Load More In झारखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत आमाघाटा मौजा में 30 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के बेनामी जमीन का हुआ खुलासा

धनबाद : 10 एकड़ से अधिक भूखंड का कोई दावेदार सामने नहीं आ रहा है. बाजार दर से इस जमीन की क…