Home उत्तर प्रदेश मुरादाबाद में जमातियों के सर्वे में लगे डॉक्टर की कोरोना वायरस से मौत, उत्तर प्रदेश का पहला मामला, अब तक 18

मुरादाबाद में जमातियों के सर्वे में लगे डॉक्टर की कोरोना वायरस से मौत, उत्तर प्रदेश का पहला मामला, अब तक 18

2 second read
0
0
246

 चीन से निकले कोरोना वायरस ने बड़ी महामारी का रूप धारण कर लिया है। भारत के साथ ही उत्तर प्रदेश में इसका रूप व्यापक होता जा रहा है। मुरादाबाद में तब्लीगी जमात के लोगों के सर्वे में लगे एक डॉक्टर की सोमवार को मौत हो गई।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पॉजिटिव से किसी डॉक्टर की मौत का यह पहला मामला है। प्रदेश में इसके कहर से अब तक 18 लोगों की मौत गई है। मुरादाबाद में जमातियों के सर्वे में लगे एक डॉकटर ने उनके संक्रमित होने के कारण आज दम तोड़ दिया। उनकी रिपोर्ट दस अप्रैल को पॉजिटिव आई थी। अब मुरादाबाद में मृतकों की संख्या तीन हो गई है।मुरादाबाद में तब्लीगी जमातियों के सर्वे में शामिल रहे डॉ. निजामुद्दीन की उपचार के दौरान मौत हो गई।

वह बीते दिनों प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ताजपुर में तैनात थे। कोरोना वायरस संक्रमण के कारण उनको टीएमयू में भर्ती कराया गया था। दस अप्रैल को रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हालत बिगड़ती चली गई। 11 को आइसीयू में हालत बिगड़ी तो वेंटिलेटर पर रख दिया गया। रविवार देर रात हार्ट अटैक की वजह से उनकी हालत बिगड़ गई। सोमवार को कोशिश के बाद भी उनको नहीं बचाया जा सका।

टीएमयू कोविड-19 प्रभारी डॉ. वीके सिंह ने बताया कि पिछले पांच दिन से उनकी हालत स्थिर बनी हुई थी। कोई बदलाव नही था। रात में कार्डियेक अटैक पड़ने की वजह से उनकी मौत हो गई। सीएमओ डॉ. एमसी गर्ग ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर की कोरोना वायरस संक्रमण से मौत हो गई है। मंडल में अब तक मरने वालों की संख्‍या तीन की मौत हो गई। एक अन्‍य आशंकित महिला की टीएमयू में उपचार के दौरान मौत हो गई। उसकी कोरोना की रिपोर्ट आनी बाकी है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण पॉजिटिव होने के कारण अब तक 18 लोगों की मौत हो गई है। इनमें सर्वाधिक छह आगरा के हैं। उत्तर प्रदेश में सबसे पहले बस्ती के एक युवक की 30 मार्च को लॉकडाउन के दौरान मौत हुई थी, उसके बाद से सिलसिला जारी है। आगरा के बाद मेरठ व मुरादाबाद के तीन-तीन और कानपुर, लखनऊ, बस्ती, बुलंदशहर, वाराणसी तथा फिरोजाबाद के एक-एक कोरोना वायरस पॉजिटिव ने दम तोड़ा है।

इससे पहले रविवार को सुहागनगरी के नाम से विख्यात प्रदेश के फिरोजाबाद में भी आगरा से निकला कोरोना वायरण का संक्रमण कहर बरपा रहा है। फिरोजाबाद में रविवार को कोरोना वायरस पॉजिटिव की मौत हो गई। वह तब्लीगी जमातियों के लगातार सम्पर्क में था। फीरोजाबाद में रविवार को कोरोना वायरस पॉजिटिव एक शख्स की मृत्यु हो गई। तब्लीगी जमाती के संपर्क वाला यह युवक मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती था। फिरोजाबाद में अब तक 40 पॉजिटिव मिले हैं। इससे पहले शनिवार को कोरोना वायरस पॉजिटिव एक शख्स ने आगरा तथा एक ने मेरठ में दम तोड़ा था। मेरठ के मेडिकल कालेज के कोरोना वार्ड में शुक्रवार को भर्ती राजनगर निवासी 52 वर्ष के कोरोना वायरस पॉजिटिव ने शनिवार देर रात अंतिम सांस ली। जनपद में कोरोना से यह तीसरी मौत है। मेरठ में पिछले तीन दिनों में यह दूसरी मौत है। सीएमओ डा. राजकुमार ने कहा कि कोविड वार्ड में शुक्रवार देर रात दम तोडऩे वाले राजनगर निवासी 52 वर्षीय संदिग्ध का सैंपल शुक्रवार को पॉजिटिव आया। 

Load More By Bihar Desk
Load More In उत्तर प्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

उत्तर बिहार से दक्षिण बिहार को जोड़ने वाली राज्य का पहला ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे के बनने का रास्ता हुआ साफ

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अनुरोध पर केंद्र सरकार ने इसे नेशनल हाइवे का दर्जा दे दिय…