Home विदेश बांग्लादेश में कोरोना वायरस से 101 लोगों की मौत, मरीजों की संख्या 4000 के करीब

बांग्लादेश में कोरोना वायरस से 101 लोगों की मौत, मरीजों की संख्या 4000 के करीब

3 second read
0
0
369

बांग्लादेश में कोरोना वायरस संक्रमण से सोमवार (20 अप्रैल) को 10 और लोगों की मौत होने के साथ ही देश में इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 101 हो गयी है। वहीं विशेषज्ञों ने चेताया है कि जितनी तेजी से लोगों में संक्रमण बढ़ रहा है, मौजूदा संख्या वास्तविक स्थिति की सिर्फ एक झलक मात्र हो सकती है। कोरोना वायरस पर मीडिया से बातचीत में स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (डीजीएचएस) के एक अधिकारी ने बताया, ”पिछले 24 घंटे में 10 और मरीजों की मौत होने के साथ ही मरने वालों की संख्या 101 पहुंच गई है।”

डीजीएचएस की अतिरिक्त महानिदेशक प्रोफेसर नसीमा सुल्ताना ने कहा कि पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 2,779 संदिग्ध मरीजों के नमूनों की जांच की गई है जिनमें से 492 के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। देश में कोरोना वायरस से संक्रमण का पहला मामला आठ मार्च को सामने आया था। डीजीएचएस की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक 2,948 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

स्वास्थ्य विभाग के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने नाम गुप्त रखने की शर्त पर पीटीआई-भाषा को बताया कि अभी तक जितने लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है और जितने लोगों की जांच की जा रही है, उस संदर्भ में मौजूदा संख्या वास्तविक स्थिति की सिर्फ एक झलक मात्र हो सकती है। उन्होंने 25 अप्रैल को समाप्त हो रहे राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की अवधि में विस्तार करने की सलाह दी।

दुनिया में कोरोना से मरने वालों की तादाद 1.66 लाख के पार, US सबसे आगे

अधिकारी ने कहा कि सीमित स्वास्थ्य सुविधाओं और अस्पतालों में वेंटिलेटर सहित अन्य उपकरणों की कमी के कारण, यदि संक्रमण देश में तेजी से फैला तो हालात और खराब हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम के कुछ विकसित देशों को भी बुजुर्गों को वेंटिलेटर नहीं देने जैसे कठोर फैसले लेने पड़े ताकि वे संक्रमण से ग्रस्त युवाओं के लिए इसे बचाकर रख सके।

अधिकारी ने कहा, ”अगर वायरस संक्रमण के प्रसार को लॉकडाउन बढ़ा कर, लोगों को एक-दूसरे से दूरी बनाकर रखने को कह कर, या किसी भी तरीके से रोका नहीं गया तो हमें भी ऐसे ही फैसले लेने पड़ेंगे।” डीजीएचएस के निदेशक प्रोफेसर नजमुल इस्लाम मुन्ना ने कहा कि बांग्लादेश में कोविड-19 की जांच के लिए 17 प्रयोगशालाएं हैं जो एक दिन में कम से कम 3,060 नमूनों की जांच कर सकती है, लेकिन हमें अभी भी संसाधनों का पूर्ण उपयोग सुनिश्चित करना होगा। उन्होंने कहा कि अप्रैल के अंत तक देश में ऐसे प्रयोगशालाओं की संख्या बढ़ाकर 28 करने के प्रयास जारी हैं।

Load More By Bihar Desk
Load More In विदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत आमाघाटा मौजा में 30 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के बेनामी जमीन का हुआ खुलासा

धनबाद : 10 एकड़ से अधिक भूखंड का कोई दावेदार सामने नहीं आ रहा है. बाजार दर से इस जमीन की क…