Home विदेश पाकिस्तान कोविड-19 पर सार्क की वचुर्अल कॉन्फ्रेंस की करेगा मेजबानी, पीएम मोदी ने की थी शुरुआत

पाकिस्तान कोविड-19 पर सार्क की वचुर्अल कॉन्फ्रेंस की करेगा मेजबानी, पीएम मोदी ने की थी शुरुआत

4 second read
0
0
405

पाकिस्तान क्षेत्र में कोविड-19 महामारी के खिलाफ एक आम रणनीति पर चर्चा करने के लिए गुरुवार को आठ सदस्यीय दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (सार्क) के मंत्रियों व वरिष्ठ अधिकारियों की एक वचुर्अल कॉन्फ्रेंस की मेजबानी (होस्टिंग) करेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी बाबत इससे पहले 15 मार्च को एक वचुर्अल कॉन्फ्रेंस की शुरुआत की थी, जिसके बाद अब पाकिस्तान ने क्षेत्रीय मंत्रियों व प्रतिनिधियों के सार्क सम्मेलन का प्रस्ताव दिया है। 

द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने विदेश कायार्लय के एक बयान के हवाले से कहा, “पाकिस्तान के प्रस्ताव के बाद सार्क सदस्य देशों का एक वीडियो सम्मेलन 23 अप्रैल 2020 को कोविड-19 महामारी पर चर्चा के लिए आयोजित किया जा रहा है।”

हेल्थ पर प्राइम मिनिस्टर के स्पेशल असिस्टेंट जफर मिर्जा पाकिस्तानी प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व करेंगे। बयान में आगे कहा गया है कि मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के अलाव बैठक में जनरल सेक्रेटरी (महासचिव) एसाला रुवान वेराकोन भी शामिल होंगे।

कोविड-19: पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 10,513 हुए

पाकिस्तान में कोरोना वायरस के 742 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोविड-19 के मामले बढ़कर 10,513 हो गए। वहीं संक्रमित 15 और लोगों की मौत के बाद वायरस के कारण जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 224 हो गई है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि पंजाब में 4,590 मरीज, सिंध में 3,373, ख़ैबर पख़्तूनख़्वा में 1,453, बलूचिस्तान में 552, गिलगित-बाल्टिस्तान में 290, इस्लामबाद में 204 और आजाद कश्मीर (पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर) में 51 मामले हैं।

अमेरिका के जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार विश्वभर में 26 लाख से अधिक कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं और कम से कम 1,83,000 लोगों की इससे जान जा चुकी है। इस बीच, पाकिस्तान ने बताया कि विदेश में फंसे पाकिस्तानियों को देश वापस लाने के प्रयासों के बीच देश वापस आने के लिए 46,500 से अधिक नागरिकों ने आधिकारिक मंच पर पंजीकरण किया है।

Load More By Bihar Desk
Load More In विदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत आमाघाटा मौजा में 30 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के बेनामी जमीन का हुआ खुलासा

धनबाद : 10 एकड़ से अधिक भूखंड का कोई दावेदार सामने नहीं आ रहा है. बाजार दर से इस जमीन की क…