Home बड़ी खबर बिहार में चार दिनों में दोगुने हो गए मरीज, 223 पहुंचा आंकड़ा, मुंगेर बना सबसे बड़ा हॉट-स्‍पॉट

बिहार में चार दिनों में दोगुने हो गए मरीज, 223 पहुंचा आंकड़ा, मुंगेर बना सबसे बड़ा हॉट-स्‍पॉट

11 second read
0
0
275

बिहार में शुक्रवार को कोरोना के रिकार्ड 53 नए मामले मिले। इनमें मुंगेर के ही 61 मामले शामिल हैं। इसके साथ मुंगेर राज्‍य का सबसे बड़ा कोरोना हॉट-स्‍पॉट बनकर उभरा है। चिंता की बात यह है कि बिहार में कोरोना संक्रमण के 34 दिनों के दौरान अंतिम चार दिनों में ही आधे से अधिक मरीज मिले हैं।

शुक्रवार को राज्‍य के दो और जिले औरंगाबाद और मधेपुरा में भी कोरोना की एंट्री हुई। इसके साथ राज्‍य के 20 जिलों में कुल 223 मरीज मिल चुके हैं। मुंगेर व वैशाली के दो मरीजों की मौत भी हो चुकी है।

बिहार में अचानक बढ़े हैं संक्रमण के मामले

बिहार में कारोना संक्रमण के ट्रेंड को देखें तो इधर कुछ दिनों से मामले अचानक बढ़ गए हैं। बीते 19 अप्रैल को 10 नए संक्रमण का पता लगा, लेकिन 20 अप्रैल को यह संख्‍या 17 जा पहुंची। फिर 21 अप्रैल को 13 नए मामले मिले, लेकिन 22 अप्रैल को फिर मामलों में 17 तक का उछाल दिखा। गुरुवार 23 अप्रैल को बिहार में अभी तक के सर्वाधिक 33 नए मामले मिले। 24 अप्रैल शुक्रवार को 53 नए मामले मिले हैं। 

बीते चार दिनों में ही मिले आधे कोरोना मरीज

आंकड़ों पर नजर दौड़ाएं तो बिहार में बीते चार दिनों के दौरान ही आधे कोरोना मरीज मिले हैं। जबकि, राज्‍य में कोरोना की दस्‍तक पड़े आज 34वां दिन है। कोरोना के इस बढ़त के ट्रेंड ने चिंता बढ़ा दी है।

52 मरीजों के साथ सबसे बड़ा हॉट-स्‍पॉट बना मुंगेर

बात हॉट-स्‍पॉट्स की करें तो 61 मरीजों के साथ मुंगेर बिहार में कोरोना का सबसे बड़ा हॉट-स्‍पॉट बन गया है। राज्‍य में कोरोना की एंट्री भी मुंगेर से ही एक मौत के साथ हुई थी। 21 मार्च की सुबह पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (AIIMS) में इलाज के दौरान एक युवक की मौत के बाद देर शाम पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव था। उसने अपना इलाज मुंगेर व पटना के कई और अस्‍पतालों में भी कराया था। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग व प्रशासन ने मृतक के संपर्क में आए लोगों की पड़ताल कर उनके सैंपल जांच करा संक्रमित हुए लोगों का पता लगाया तथा उनका इलाज करा संक्रमण की चेन को तोड़ दिया। ऐसा लगा कि मुंगेर कोरोना फ्री हो रहा है, लेकिन फिर नए सिरे से मरीज मिलने लगे हैं।

मुंगेर में जमालपुर से हुई कोरोना की वापसी

मुंगेर में कोरोना की वापसी जमालपुर में हुई है। वहां संक्रमण फैलने के पीछे नालंदा में आयोजित तब्लीगी जमात के जोड़ कार्यक्रम को जिम्‍मेदार माना जा रहा है। उस कार्यक्रम में शामिल मुंगेर के एक बुजुर्ग को कोरोना संक्रमित पाया गया। फिर, एक-एक कर उस बुजुर्ग के संपर्क में आए लोगों व न सक्रमित मरीजाें के संपर्क के लोगों में संक्रमण के मामले मिलने लगे हैं। यह सिलसिला जारी है।मुंगेर के जिलाधिकारी के अनुसार मुंगेर में कोरोना का नया केंद्र जमालपुर का सदर बाजार इलाका है। पूरे इलाके को सील व सैनिटाइज कर लॉकडाउन का सख्‍ती से पालन कराया जा रहा है। घरों से निकलने पर भी पाबंदी है।

नालंदा बना बिहार का दूसरा बड़ा हॉट-स्‍पॉट, मिले 34 मरीज

संक्रमण के लिहाज से 34 मरीजों के साथ नालंदा मुंगेर के बाद दूसरे स्‍थान पर है। सोमवार को नालंदा में एक डॉक्‍टर सहित 17 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने से हड़कंप मच गया। संक्रमित डॉक्‍टर बिहारशरीफ सदर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित हैं। वे कोरोना संक्रमण के शिकार राज्‍य के पहले डॉक्‍टर हैं। नालंदा का जिला मुख्‍यालय बिहारशरीफ कोरोना संक्रमण का बड़ा केंद्र बन गया है। वहां बीते 22 मार्च को दुबई से लौटे एक कोरोना पॉजिटिव युवक से संक्रमण फैला।

सिवान में मिले 30 मरीज, अभी भी हॉट-स्‍पॉट में शामिल

सिवान बिहार का पहला जिला है, जहां एक-एक कर 29 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से हड़कम्‍प मच गया था। सिवान बिहार का पहला कोरोना हॉट-स्‍पॉट बना था। लेकिन स्‍वास्‍थ्‍य विभाग व प्रशासन की कोशिशें रंग लाई और यहां के संक्रमण चेन को तोड़ने में सफलता मिली। वहां के 18 कोरोना पॉजिटिव मरीज एक-एक कर स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। लेकिन गुरुवार को फिर वहां एक नया कोरोना पॉजिटिव मामला मिलने के बाद चिंता बढ़ गई है। ऐसे में फिलहाल यह जिला हॉट-स्‍पॉट की श्रेणी में ही रहेगा, यह तय हो गया है।

पटना की स्थिति चिंताजनक, अब तक मिल चुके 26 संक्रमित

सबसे बड़ी चिंता राजधानी पटना में कोरोना संक्रमण के मरीजों की बढ़ती संख्‍या है। यहां अचानक कोरोना संक्रमितों की संख्‍या चिंतातजनक रूप से बढ़ी है। पटना का खाजपुरा इलाका कोरोना का केंद्र बनकर उभरा है। पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान में इलाज के दौरान खाजपुरा की एक महिला को कोरोना पॉजिटिव पाया गया, फिर उसके संक्रमण की चेन में एक के बाद एक मरीज मिलते गए हैं। संक्रमण की यह नई चेन खाजपुरा से निकलकर पास के जगदेव पथ व सिमरीबख्तियारपुर के सलीमपुर तक पहुंच गई है। वहां भी एक-एक मरीज मिले। बहरहाल, पटना में अभी तक 26 मामले मिल चुके हैं।

राज्‍य के अन्‍य 16 जिलों में भी फैल चुका कोरोना

मुंगेर, नालंदा, सिवान व पटना के अलावा राज्‍य के 16 अन्‍य जिले भी कोरोना संक्रमण से प्रभावित हैं। बक्‍सर में 18, बेगूसराय में नौ, कैमूर में आठ, रोहतास में सात, गया व भागलपुर में पांच-पांच, गोपालगंज , नवादा व भोजपुर में तीन-तीन, बांका, सारण व औरंगाबाद में दो-दो तथा लखीसराय, वैशाली, पूर्वी चंपारण व मधेपुरा में एक-एक मामले मिले हैं। राज्‍य के शेष 18 जिले अभी कोरोना फ्री हैं।

बिहार के ये 18 कोरोना फ्री

1. पश्चिम चंपारण

2. सीतामढ़ी

3. शिवहर

4. मुजफ्फरपुर

5. समस्तीपुर

6. दरभंगा

7. मधुबनी

8. सहरसा

9. सुपौल

10. खगड़िया

11. अररिया

12. किशनगंज

13. कटिहार

14. पूर्णिया

15. जमुई

16. शेखपुरा

17. अरवल

18. जहानाबाद

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार में जल्द ही दे सकता है मानसून दस्तक, पढ़ें और जाने

मंगलवार को पटना समेत प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में हुई बारिश से तापमान में गिरावट दर्ज की …