Home भागलपुर संक्रमित पीजी छात्र आइसोलेशन वार्ड जाने को तैयार नहीं, खुद को आइसीयू में किया है भर्ती

संक्रमित पीजी छात्र आइसोलेशन वार्ड जाने को तैयार नहीं, खुद को आइसीयू में किया है भर्ती

2 second read
0
0
288

भागलपुर । संक्रमित पीजी मेडिकल छात्र आइसोलेशन वार्ड जाने को तैयार नहीं है। उसने खुद को आइसीयू में भर्ती कर लिया है। अस्पताल अधीक्षक ने उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराने के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिया है। अधीक्षक ने बताया कि 22 अप्रैल को छात्र जबरन आइसीयू में भर्ती हो गया। दो दिनों से विभागाध्यक्ष और शिक्षकगण उन्हें कोरोना वार्ड में जाने के लिए समझा रहे हैं, लेकिन वह किसी की सुनने को तैयार नहीं है। इससे उसका समुचित उपचार नहीं किया जा रहा है। छात्र को आइसोलेशन वार्ड में भेजने को लेकर शनिवार को अस्पताल अधीक्षक ने विभागाध्यक्षों की बैठक भी बुलाई। इनमें कुछ डॉक्टर चाह रहे थे कि छात्र आइसीयू में ही रहे, लेकिन अधीक्षक ने कहा कि जहां जिसकी व्यवस्था की गई है, उसे वहीं रहना चाहिए।

मायागंज अस्पताल और सदर अस्पताल में 13 जूनियर डॉक्टर समेत 148 लोगों का सैंपल शनिवार को लिया गया था। वहीं, सदर अस्पताल में 23 अप्रैल को 32 लोंगों के सैंपल लिए गए थे। शनिवार को जांच रिपोर्ट मिली, इसमें से एक भी संक्रमित नहीं है।

मधेपुरा में कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद सहरसा सीमा सील

मधेपुरा जिले में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद सहरसा प्रशासन पूरी तरह चौकस हो गई है। सहरसा-मधेपुरा सीमा को सीमा कर सभी वाहनों की जांच की जा रही है। आने-जाने वालों पर भी नजर रखी जा रही है। पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि सहरसा-मधेपुरा सीमा क्षेत्र में 16 चेकपोस्ट बनाए गए हैं। एसपी ने कहा कि जिले में अभी लॉकडाउन लागू है। पूर्व से जिन दुकानों को खोलने की छूट मिली है, उनके अलावा किताब व पंखे की दुकान ही खुल सकती है। भारत सरकार के गृह मंत्रालय से जारी एडवाइजरी के आलोक में बिहार सरकार द्वारा स्पष्ट आदेश नहीं दिए जाने तक दुकानें पूर्व की तरह बंद रहेंगी।

मधेपुरा की कोरोना पॉजिटिव के बसनही से जुड़ा तार

मधेपुरा की कोरोना पॉजिटिव की रिश्तेदार सहरसा के बसनही थाना क्षेत्र के एक गांव से जुड़ी है। इस जानकारी के सामने आने के बाद चिकित्सकों ने उक्त परिवार के 16 सदस्यों को चिह्नित किया है। इनमें से चार को जांच के लिए सदर अस्पताल भेजा गया है। अन्य 12 सदस्यों को पंचायत में बने क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है। जानकारी मिली है कि मधेपुरा की महिला के कोरोना पॉजिटिव होने की सूचना आते ही उसके घर की एक महिला ने अपने पिता से मुलाकात की थी।

Load More By Bihar Desk
Load More In भागलपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत आमाघाटा मौजा में 30 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के बेनामी जमीन का हुआ खुलासा

धनबाद : 10 एकड़ से अधिक भूखंड का कोई दावेदार सामने नहीं आ रहा है. बाजार दर से इस जमीन की क…