Home विदेश ट्रंप का चीन पर सनसनीखेज आरोप, कहा- दोबारा चुने जाने से रोकने को चीन ने किया कोरोना का इस्तेमाल

ट्रंप का चीन पर सनसनीखेज आरोप, कहा- दोबारा चुने जाने से रोकने को चीन ने किया कोरोना का इस्तेमाल

1 second read
0
0
201

‘चीन ने जिस तरह से कोरोना वायरस मसले का इस्तेमाल किया है उससे साबित होता है कि वह राष्ट्रपति के रूप में मेरे दोबारा चुनाव को रोकने के लिए कुछ भी कर सकता है।’ यह बात अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खास बातचीत में कही है। अमेरिका में राष्ट्रपति पद का चुनाव आगामी नवंबर में प्रस्तावित है जबकि इस समय देश कोरोना वायरस जनित महामारी से बुरी तरह जूझ रहा है। अमेरिका में महामारी से 60 हजार से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं जबकि 11 लाख से ज्यादा बीमार हैं।

चीन के लिए कई विकल्‍प मेरे पास

कोरोना वायरस मसले पर अपना सख्त रुख प्रदर्शित करते हुए ट्रंप ने कहा कि चीन को लेकर उनके पास नतीजे के कई विकल्प हैं। बहुत कुछ करेंगे… देखने और जानने के लिए समय का इंतजार करना होगा। ट्रंप ने कोविड-19 महामारी के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराया जिससे अमेरिका में 60 हजार से ज्यादा लोग मर चुके हैं और अर्थव्यवस्था को चोट लगी है। इसके बावजूद ट्रंप को उम्मीद है उन्हें जनता एक बार फिर से राष्ट्रपति के रूप में चार साल का कार्यकाल देगी।

चीन को करना चाहिए था आगाह

माना जा रहा है कि ट्रंप ने समय रहते अमेरिका में कोरोना वायरस से निपटने का इंतजाम नहीं किया। इस पर ट्रंप ने कहा, चीन को वायरस की सक्रियता और उससे हो रहे नुकसान के बारे में दुनिया को बताना चाहिए था। लेकिन उसने जानकारियों को छिपाया। उसी का नतीजा हुआ कि पूरी दुनिया को भारी नुकसान हुआ।

मुझे हराने को चीन हर संभव कोशिश करेगा

ट्रंप ने कहा, चुनाव में उन्हें हराने के लिए चीन हर संभव प्रयास करेगा। चीन चाहता है कि डेमोक्रेटिक पार्टी के उनके विरोधी उम्मीदवार जो बिडेन जीतें, जिससे कारोबार और अन्य मसलों को लेकर ट्रंप प्रशासन का उस पर जो दबाव बना हुआ है वह खत्म हो। इसीलिए चीन कोरोना वायरस से पैदा स्थिति पर सफाई देने का अभियान छेड़े हुए है जिससे सबको लगे कि वह निर्दोष है। ट्रंप ने कहा, चीन के राष्ट्रपति के साथ उन्होंने जो व्यापार समझौता किया, उसका उद्देश्य अमेरिका को होने वाले व्यापार घाटे को कम करना था लेकिन उनके इस उद्देश्य को कोरोना के चलते भारी चोट पहुंची है।

चीन ने आरोपों को नकारा

चीन ने कहा है कि अमेरिका के चुनाव में हस्तक्षेप की उसकी कोई मंशा नहीं है। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जेंग शुआंग ने यह बात राष्ट्रपति ट्रंप के आरोप पर कही है। वहीं ओपीनियन पोल में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार बिडेन के बढ़त लेने के सवाल पर ट्रंप ने कहा, वह इस तरह के अनुमानित नतीजों पर विश्वास नहीं करते। उन्हें पूरा भरोसा है कि चुनाव में उन्हें (ट्रंप को) ही जीत हासिल होगी। 

Load More By Bihar Desk
Load More In विदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

जदयू के खिलाफ़ बिहार भाजपा अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने की बयानबाज़ी, कही ये बात, पढ़ें

बिहार विधानमंडल का मानसून सत्र शुक्रवार से शुरुआत हो गई है। 30 जून तक चलने वाले सत्र में स…