Home विदेश अमेरिका के बाद अब जापान भी रेमडेसिवियर (रेमडेसिविर) के जरिए लड़ेगा कोरोना से जंग, इलाज में इस्तेमाल के लिए मंजूरी देने की तैयारी

अमेरिका के बाद अब जापान भी रेमडेसिवियर (रेमडेसिविर) के जरिए लड़ेगा कोरोना से जंग, इलाज में इस्तेमाल के लिए मंजूरी देने की तैयारी

4 second read
0
0
152

कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में एंटी वायरल दवा रेमडेसिवियर (रेमडेसिविर) काफी अहम हो गया है। अमेरिका समेत दुनिया की निगाहें अब इस दवा पर टिकी हैं। दरअसल रेमडेसिवियर के क्लिनिकल ट्रायल के तीसरे फेज में सकारात्मक परिणाम सामने आने के बाद इस दवा पर कई देशों का भरोसा बढ़ा है। अमेरिका ने जहां आपातकालीन स्थिति में रेमडेसिविर दवा का उपयोग करने की स्वीकृति प्रदान की है वहीं जापान ने भी रेमेडिसविर के लिए एक विशेष अनुमोदन प्रक्रिया शुरू कर दी है।

दरअसल, रेमडेसिवियर एक एंटी वायरल दवा है, जिसे इबोला के इलाज के लिए बनाया गया था। इसे अमेरिकी फार्मास्युटिकल गिलियड साइंसेज द्वारा बनाया गया है। इसी साल फरवरी में यूएस नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शस डिसीज ने घोषणा की कि वह कोविड-19 के खिलाफ जांच के लिए रिमेडिसवायर का ट्रायल कर रहा है। बता दें कि इसी दवा ने सार्स और मर्स जैसे वायरस के खिलाफ एन‍िमल टेस्ट‍िंग में बेहतर परिणाम दिए थे। 

जापान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड -19 के संभावित उपचार के रूप में एंटीवायरल ड्रग रेमेडिसविर के लिए एक विशेष अनुमोदन प्रक्रिया शुरू कर दी है। ब्लूमबर्ग के मुताबिक अनुमोदन प्रक्रिया लगभग एक सप्ताह में पूरी हो सकती है। जापान द्वारा यह कदम अमेरिकी नियामकों द्वारा कोविड -19 रोगियों में आपातकालीन उपयोग के लिए दवा को मंजूरी देने के बाद आया है। यदि इसे उपयोग के लिए मंजूरी दे दी जाती है, तो रेमेडिसवीर जापान में उपलब्ध पहली कोविड -19 उपचार दवा होगी। 

Load More By Bihar Desk
Load More In विदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

लालू करेंगे राज्यसभा के उम्मीदवारों का फैसला, पढ़ें पूरी खबर..

राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर प्रत्याशी चयन के संदर्भ में राजद के संसदीय बोर्ड की बैठक मंगलवा…