Home योग और स्वास्थ्य क्या लहसुन खाने से सच में ख़त्म हो सकता है कोरोना वायरस?

क्या लहसुन खाने से सच में ख़त्म हो सकता है कोरोना वायरस?

2 second read
0
0
240

नई दिल्ली।  पिछले साल दिसंबर से चीन के वुहान से शुरू हुआ कोरोना वायरस अब पूरी दुनिया में तेज़ी से फैल रहा है। अब तक 32 लाख से ज़्यादा लोग इस ख़तरनाक वायरस की चपेट में आ चुके हैं, जबकि दो लाख से ज़्यादा लोगों की जानें जा चुकी हैं। नया कोरोना वायरस यानी COVID-19 संक्रमण इंसानों के लिए नया है, इसलिए न तो इसकी वैक्सीन या दवा उपलब्ध है और न ही इसके बारे में ज़्यादा जानकारी है। 

जब से कोरोना वायरस तेज़ी से फैलना शुरू हुआ है, तब से सोशल मीडिया के ज़रिए इससे बचने की कई तरह की तरीके वायरल हो रहे हैं। डर के इस माहौल में कई ऐसी जानकारियां सोशल मीडिया पर चल रही हैं, जिनमें दावा किया जा रहा है कि इनके इस्तेमाल से कोरोना वायरस के असर को कम किया जा सकता है, लेकिन ये तमाम बातें न सिर्फ गलत जानकारी फैला रही हैं बल्कि इनका ज़रूरत से ज़्यादा उपयोग भी व्यक्ति को बीमार कर सकता है।

इन्हीं में से एक दावा ये है कि लहसन खाने से आप कोरोना वायरस को ख़त्म या इस संक्रमण से अपने शरीर को बचा सकते हैं। आइए जानें क्या है सच: 

लहसुन खाने के फायदे

फ़ेसबुक पर ऐसी बहुत सी पोस्ट देखने को मिल रही हैं जिनमें ये बताया जा रहा है कि लहसुन खाने से कोरोना वायरस के असर को ख़त्म किया जा सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) लहसुन को एक अच्छा और हेल्दी खाद्य पदार्थ मानता है जिसमें कई बीमारियों से लड़ने की क्षमता है, लेकिन इस बात के कोई सबूत नहीं है कि लहसुन खाने से कोरोना वायरस का असर ख़त्म किया जा सकता है।

हालांकि, लहसुन खाने से किसी तरह का नुक़सान नहीं होता लेकिन यह सोचकर कि इससे कोरोना वायरस नहीं होगा, उसका अधिक सेवन करना हमारे स्वास्थ्य पर बुरा असर ज़रूर डाल सकता है। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार एक महिला ने इसी झूठे दावे पर यक़ीन कर के क़रीब 1.5 किलो कच्चा लहसुन खा लिया, जिसके बाद उसके गले में बहुत ज़्यादा परेशानी हो गई।

यह बात सभी को पता है कि फल, सब्ज़ियां खाना और पानी पीना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है लेकिन इस बात के सबूत नहीं है कि कौन सा खाना खाने से कोरोना वायरस को समाप्त किया जा सकता है।

Load More By Bihar Desk
Load More In योग और स्वास्थ्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत आमाघाटा मौजा में 30 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के बेनामी जमीन का हुआ खुलासा

धनबाद : 10 एकड़ से अधिक भूखंड का कोई दावेदार सामने नहीं आ रहा है. बाजार दर से इस जमीन की क…