Home बड़ी खबर लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्यों से बिहार लौटने वाले सभी प्रवासियों को 21 दिनों तक क्वारंटाइन में रखा जाएगा

लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्यों से बिहार लौटने वाले सभी प्रवासियों को 21 दिनों तक क्वारंटाइन में रखा जाएगा

2 second read
0
0
213

पटना। बिहार में दूसरे राज्यों से आने वाले सभी प्रवासियों की अनिवार्य रूप से स्वास्थ्य जांच की जाएगी। जांच के क्रम में कोरोना के लक्षण पाए जाने पर विधिवत कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद स्वास्थ्य विभाग ने प्रखंड स्तर पर स्वास्थ्य जांच की पूरी तैयारी की है। विभाग के निर्देश के अनुसार कोरोना के लक्षण या बिना लक्षण वाले दोनों को 21 दिनों के लिए अनिवार्य क्वारंटाइन में रखा जाएगा। विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने सभी जिलों के डीएम व सिविल सर्जनों को निर्देश दिया कि रेल या बस अथवा अन्य साधनों से बिहार आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जांच अनिवार्य रूप से की जाए।

अलक्षण वाले व्यक्तियों को उनके गृह जिले/ प्रखंड स्थित आपदा के क्वारंटाइन  सेंटर में रखा जाए। वहां भी उनकी नियमित स्वास्थ्य जांच की जाए। अगर वहां जांच में लक्षण मिले तो उसे स्वास्थ्य विभाग के क्वारंटाइन सेंटर में रखा जाए। वहीं, स्क्र्रींनग के दौरान भी अगर किसी में लक्षण मिले तो उसे स्वास्थ्य विभाग के क्वारंटाइन सेंटर ले जाया जाए। वहां पूर्व की तरह सैम्पल लेकर जांच कराई जाए। अगर मरीज पॉजिटिव आता है तो उसे कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया जाए। विभाग ने अपने  निर्देश में सभी क्वारंटाइन सेंटरों पर एम्बुलेंस व दवा सहित अन्य इंतजाम करने, गर्भवती महिला व वृद्धजनों के इलाज की व्यवस्था करने को भी कहा है।

रेलवे स्टेशनों और क्वारंटाइन सेंटर पर चिकित्सा टीम तैनात होगी

विभाग ने निर्देश दिया कि सिविल सर्जन अपने जिले में ट्रेन के ठहराव स्थल की जानकारी लेकर वहां चिकित्सा टीम की तैनाती करें। उसमें डॉक्टर के अलावा पारा मेडिकल स्टाफ भी हो। उन्हें इन्फ्रा रेड थर्मामीटर, थ्री प्लाई मास्क, डिस्पोजेबल कैप, ग्लब्स, सेनेटाइजर इत्यादि दें। वहीं, प्रखंड स्तर पर भी क्वारंटाइन सेंटर में चिकित्सा टीम की तैनात की जाए

प्रवासी बिहारियों के आने पर उनकी पूरी जांच स्वास्थ्य टीम द्वारा की जाएगी।  जिन्हें भी खांसी, सर्दी, बुखार जैसी समस्या है, स्वास्थ्य विभाग की टीम उनकी पूरी जांच करेगी। जो भी पॉजिटिव मरीज मिलेंगे, साथ ही उनके संपर्क में आने वालों की भी जांच कर उन्हें क्वारंटाइन में रखा जाएगा।
-मंगल पांडेय, स्वास्थ्य मंत्री, बिहार

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार के इस बच्चे की बॉलीवुड एक्ट्रेस गौहर खान करेंगी मदत, पढ़ें

छठी क्लास में पढ़ने वाले 11 साल के सोनू कुमार ने हाल ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार के सामने…