Home बड़ी खबर प्रवासी कामगारों के लिए प्रखंड में बनाए गए नौ आइसोलेशन सेंटर

प्रवासी कामगारों के लिए प्रखंड में बनाए गए नौ आइसोलेशन सेंटर

2 second read
0
0
189

जमुई। प्रवासी कामगारों को किसी प्रकार की परेशानी न हो, इसके लिए शनिवार को जिला शिक्षा पदाधिकारी विजय कुमार हिमांशु ने प्रखंड के सभी आइसोलेशन वार्ड को निरीक्षण किया। उन्होंने भोजन व बिजली की व्यवस्था का भी जायजा लिया। नौ जगहों पर आइसोलेशन सेंटर में 517 बेड तैयार किया गया है। जहां महिला एवं पुरुष के लिए अलग-अलग शौचालय की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा पंचायत स्तर पर भी दस-दस बेड का आइसोलेशन सेंटर तैयार कराया गया है। किसी भी स्थिति में बाहर आ रहे छात्रों व कामगारों को गांव या शहर में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। 21 दिनों तक इस आइसोलेशन सेंटर में रखा जाना है।

इसके लिए प्रत्येक आइसोलेशन सेंटर पर एक कार्यपालक सहायक के साथ तीन पदाधिकारियों की नियुक्ति की गई है। कोई भी व्यक्ति सेंटर से अपना घर न जा सके, उसके लिए प्रत्येक सेंटर की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। कोरोना वायरस के संक्रमण को किसी भी हालात में फैलने नहीं दिया जाएगा। निरीक्षण के दौरान बीडीओ धर्मवीर कुमार प्रभाकर, अंचलाधिकारी अमित कुमार रंजन, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी कुमारी अर्पणा, थानाध्यक्ष सिद्धे‌र्श्वर पासवान सहित कई पदाधिकारी उपस्थित थे।

प्रखंड में बनाए गए आइसोलेशन सेंटर

प्रखंड सूचना केंद्र मे 50 बेड, सरडोनिक्स स्कूल में 80 बेड, संत जोसेफ स्कूल में 72, उच्च विद्यालय केशोपुर में 75, उच्च विद्यालय बोड़वा में 48, उत्क्रमित मध्य विद्यालय कल्युगहा में 48, उच्च विद्यालय सुन्दरीटांड़ में 48, उत्क्रमित मध्य विद्यालय सिमुलतला में 48 बेड की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा प्रत्येक पंचायत के पंचायत भवन या फिर विद्यालय में दस-दस बेड की व्यवस्था की गई है।

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार के इस बच्चे की बॉलीवुड एक्ट्रेस गौहर खान करेंगी मदत, पढ़ें

छठी क्लास में पढ़ने वाले 11 साल के सोनू कुमार ने हाल ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार के सामने…