Home बड़ी खबर अब पटना मेट्रो के कोच का आकार भी बदलेगा – पटना मेट्रो रेल कारपोरेशन

अब पटना मेट्रो के कोच का आकार भी बदलेगा – पटना मेट्रो रेल कारपोरेशन

0 second read
0
0
125

पटना। पटना मेट्रो के डिब्बे अब और चौड़े होंगे। इसे 2900 से बढ़ाकर 3200 एमएम किए जाने के दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन के प्रस्ताव पर लगभग सहमति बन गई है। अंतिम मुहर अगली बोर्ड बैठक में लगेगी। एनएच-30 पर मेट्रो के अलाइनमेंट निर्माण के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने सहमति दे दी है। जीरो माइल पर मेट्रो जमीनी सतह से 12 मीटर तो रामकृष्णा नगर में 10 मीटर ऊपर दौड़ेगी। दानापुर छावनी क्षेत्र में प्रस्तावित मेट्रो स्टेशन के निर्माण के लिए रक्षा मंत्रालय को पत्र भेजा जाएगा। जमीन अधिग्रहण का काम भी जल्द शुरू होगा। इसके लिए विशेष कोषांग के गठन के साथ ही उन्हें दो वाहन भी दिए जाएंगे।

पटना मेट्रो प्रोजेक्ट का अलाइनमेंट बदलने के बाद दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन ने अब कोच का आकार बदलने का प्रस्ताव दिया है। पटना मेट्रो रेल कारपोरेशन के प्रबंध निदेशक आनंद किशोर ने गत दिवस वीडियो कांफ्रेंसिंग से डीएमआरसी, एनएचएआई, पुल निर्माण निगम, वन विभाग सहित अन्य के साथ मेट्रो को लेकर महत्वपूर्ण बैठक की। बैठक में मेट्रो कोच की चौड़ाई 3200 एमएम किए जाने पर लगभग सहमति बन गई। डीपीआर में पहले 2900 एमएम चौड़ाई प्रस्तावित की गई थी। हालांकि अंतिम निर्णय पीएमआरसीएल की अगली बोर्ड बैठक में होगा।

आईएसबीटी पर सड़क के बीच में चलेगी मेट्रो

पटना मेट्रो का अलाइनमेंट तय हो जाने के बाद आईएसबीटी पर मेट्रो का एलाइनमेंट सड़क के मध्य में होगा। साथ ही पथ निर्माण विभाग द्वारा फ्लाइओवर निर्माण के लिए सड़क किनारे मौजूद अतिरिक्त भूमि के अधिग्रहण का निर्णय लिया गया। जीरो माइल पर फ्लाईओवर का विस्तार प्रस्तावित है सो मेट्रो जमीन से 12 मीटर ऊपर चलेगी। वहीं रामकृष्णा नगर में अंडरपास निर्माण के कारण मेट्रो अलाइनमेंट सड़क से 10 मीटर ऊंचा होगा। अशोक राजपथ पर पीएमसीएच के पास मेट्रो एलाइनमेंट की स्वीकृति बीएमएसआईसीएल द्वारा दी गयी।

आईएसबीटी पर बनेगा सबस्टेशन

आईएसबीटी के पास करीब चार हजार वर्गमीटर जमीन पर रिसीविंग सब स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है। ताकि मेट्रो के लिए यहीं से विद्युत आपूर्ति हो सके। यहां से आईएसबीटी से लेकर मीठापुर रूट तक के लिए मेट्रो को बिजली आपूर्ति की जाएगी। प्रबंध निदेशक आनंद किशोर ने कहा कि इस पर निर्णय 10 मई के बाद होने वाली बोर्ड बैठक में लिया जाएगा। बैठक का 22 बिंदु का एजेंडा तैयार है। उधर, विश्वेश्वरैया भवन में बन रहे अंडरग्राउंडपार्किंग के नीचे से मेट्रो गुजरेगी।

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार में जल्द ही दे सकता है मानसून दस्तक, पढ़ें और जाने

मंगलवार को पटना समेत प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में हुई बारिश से तापमान में गिरावट दर्ज की …