Home सियासत गरीब मजदूरों का किराया देने को सरकार तैयार नहीं, केंद्र और राज्य सरकार का गरीब विरोधी चेहरा सामने आया: तेजस्वी यादव

गरीब मजदूरों का किराया देने को सरकार तैयार नहीं, केंद्र और राज्य सरकार का गरीब विरोधी चेहरा सामने आया: तेजस्वी यादव

1 second read
0
0
231

पटना। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आरोप लगाय है कि केंद्र और राज्य सरकार का गरीब विरोधी चेहरा सामने आ गया। दोनों जगह डबल इंजन सरकार है, लेकिन कोई भी गरीब मज़दूरों का किराया वहन करने के लिए तैयार नहीं है। लोग भुखमरी के शिकार हो रहे हैं। लेकिन, सरकार नैतिकता और कर्तव्यपरायणता की सारी मर्यादा भूल चुकी है। सरकार के पास गरीबों का किराया देने का पैसा नहीं है। 

उन्होंने कहा है कि वर्ष 2008 में कोसी नदी ने तबाही मचा लाखों लोगों का जीवन प्रभावित किया था, तब तत्कालीन रेलमंत्री लालू प्रसाद ने फ़्री में ट्रेन चलाई थी। बिहार के मात्र 4-5 ज़िलों के लिए ही 1000 करोड़ का पैकेज़ दिलाया। मुख्यमंत्री तब भी नीतीश कुमार जी थे और अब भी। लेकिन परिस्थिति में अंतर सामने है। 

नेता प्रतिपक्ष ने कहा है कि बिहार से बाहर फंसे लोगों को वापस लाने के लिए सरकार के पास अब तक कोई ठोस कार्य योजना नहीं है। जिन नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की गयी है उनके मोबाइल या तो स्विच ऑफ है या किन्ही कारणों से लग नहीं रहे है। जब तक सभी बिहारवासी वापस नहीं आ जाते तब तक सरकार को एक समर्पित केंद्रीकृत युद्ध कक्ष और वैकल्पिक हेल्पलाइन देनी चाहिए।

Load More By Bihar Desk
Load More In सियासत

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार विधानसभा का सत्र समापन पर राष्ट्रगीत वंदेमातरम से करने की परंपरा है: सुशील मोदी

बिहार विधानसभा में राष्‍ट्र गीत ‘वंदे मातरम’ के अपमान के मसले पर बीजेपी ने राज…