Home बड़ी खबर विस्‍फोटक हुई कोरेाना की रफ्तार, चार मौत के साथ आंकड़ा पांच सौ पार

विस्‍फोटक हुई कोरेाना की रफ्तार, चार मौत के साथ आंकड़ा पांच सौ पार

1 second read
0
0
271

पटना। बिहार में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा सोमवार तक 523 हो चुका है। सोमवार का खाता मधुबनी में पांच तथा पश्चिम चंपारण में एक नए मामले के साथ खुला। कोरोना की रफ्तार बीते 26 अप्रैल को मिले एक दिन में अब तक के सर्वाधिक 69 मामलों के साथ विस्‍फोटक हो गई है। तब से अब तक नौ दिनों में 247 नए मामले सामने आ चुके हैं। इस बीच चार लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है। राहत की बात यह है कि अब तक 124 लोग इस महामारी को परास्त करने में सफल रहे हैं। राज्य के 31 जिलों में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या 395 है। संक्रमण को देखते हुए सरकार ने पांच जिलों को कोरोना के रेड जोन तो शेष जिलों को ऑरेंज जोन में रखा है।

सोमवार को अभी तक मिले छह नए मामले

सोमवार को कोरोना की पहली रिपोर्ट मधुबनी से मिली। जिलाधिकारी नीलेश देवरे ने ट्वीट कर जानकारी दी कि वहां कोरोना के पांच नाए मामले मिले हैं। इसके साथ मधुबनी में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 23 हो गई है। उधर, पश्चिम चंपारण में भी एक और कोरोना पाॅजिटिव मिलने से वहां कोरोना पाॅजिटिव की संख्या 11 हो गई है। जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने इसकी पुष्टि की है।

31 जिलों में पहुंचा कोरोना का संक्रमण

कोरोना का संक्रमण राज्‍य के 38 में से 31 जिलों तक हो चुका है। रविवार को मिले संक्रमितों में एक शिवहर का भी है। इस मामले के साथ काेरोना की शिवहर में एंट्री हो गई। शिवहर सदर के गढ़वा से एक कोरोना संक्रमित युवक मिला।

नौ दिनों में विस्‍फोटक हुए राज्‍य के हालात

दरअसल, बिहार में कोरोना का विस्‍फोटक रूप बीते 26 अप्रैल से दिख रहा है। उस दिन अब तक किसी एक दिन मिले सर्वाधिक 69 मरीज मिलने पर स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के हाथ-पांव फूलते नजर आए थे। साथ ही कोरोना की दरभंगा, मधुबनी व पूर्णिया में भी एंट्री हो गई। आगे 27 अप्रैल को भी 56 नए मामले मिले। फिर 28 अप्रैल को 20, 29 अप्रैल को 37 तथा 30 अप्रैल को 22 नए मामले मिले। मई में भी कोरोना संक्रमण पर लगाम लगता नहीं दिख रहा। मई के पहले दिन रिकार्ड 41 नए मामले सामने आए। फिर दो मई को 16 तो तीन मई को 35 नए मामले मिले। चार मई को भी छह मामले के साथ कोरोना का खाता खुल चुका है।

टॉप चार में मुंगेर, बक्‍सर, रोहतास व पटना

राज्‍य में सर्वाधिक 102 संक्रमित राज्‍य मुंगेर है। 56 मामलों के साथ बक्‍सर दूसरे स्‍थान पर तो 52 मामलों के साथ रोहतास तीसरे स्थान पर है। राजधानी पटना में भी 44 मामले मिल चुके हैं।

मुंगेर में सर्वाधिक संक्रमण, आंकड़ा सौ पार

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि रविवार को मुंगेर में सात संक्रमित मिले। इसके साथ मुंगेर में पॉजिटिव मामलों की संख्या सौ के पार पहुंच गई। वर्तमान में मुंगेर 102 मामलों के साथ राज्‍य का सर्वाधिक संक्रमित जिला है। यहां एक युवक की मौत हो चुकी है। जबकि, 22 स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। ऐसे में मुंगेर में वर्तमान में 79 एक्टिव मामले हैं।

11 दिन बाद भागलपुर से फिर मिले मरीज, गंभीर हुए हालात

रविवार को करीब 11 दिन बाद एक बार फिर भागलपुर से छह संक्रमित मिले। इसके पहले 22 अप्रैल को एक डॉक्टर समेत कुल चार कोरोना पॉजिटिव मिले थे। रविवार को भागलपुर के शाहकुंड, नाथनगर, बभनगामा, जगदीशपुर, कहलगांव और सिकंदरपुर से एक-एक संक्रमित मिले। इसके साथ भागलपुर में संक्रमितों की संख्या 11 हो गई, जिनमें दो स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। ऐसे में नौ एक्टिव मामलों के साथ भागलपुर में फिर हालात गंभीर होते दिख रहे हैं।

राहत यह कि 125 मरीज हुए स्वस्थ

रविवार को राज्य के छह कोरोना जांच लैब में कुल 1,227 सैंपल की जांच में 36 रिपोर्ट पॉजिटिव आई। शनिवार तक छह लैब ने 25,724 सैंपल की जांच की थी। रविवार को 1,227 सैंपल की जांच के बाद यह संख्या 26,951 हो गई। स्वास्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि 124 लोग इस महामारी को परास्त करने में सफल रहे। जबकि, चार लोगों की मृत्यु हुई है। उन्होंने बताया कि राज्य में कोरोना एक्टिव केस की संख्या 395 है।

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

लालू करेंगे राज्यसभा के उम्मीदवारों का फैसला, पढ़ें पूरी खबर..

राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर प्रत्याशी चयन के संदर्भ में राजद के संसदीय बोर्ड की बैठक मंगलवा…