Home झारखंड हिंदपीढ़ी से निकलकर रात के अंधेरे में कोलेबिरा पहुंचा परिवार, प्रशासन ने कब्जे में लिया

हिंदपीढ़ी से निकलकर रात के अंधेरे में कोलेबिरा पहुंचा परिवार, प्रशासन ने कब्जे में लिया

2 second read
0
0
158

सिमडेगा. रांची के कोरोना हॉटस्पॉट हिंदपीढ़ी से पुलिस की नजरों से बचकर कोलेबिरा पहुंचे परिवार को प्रशासन ने पकड़ा लिया. पति-पत्नी और बच्चे को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है. यह परिवार रात के अंधेरे में स्कूटी से रांची से कोलेबिरा पहुंच गया. लेकिन ग्रामीणों ने बुधवार सुबह प्रशासन को इस बात की खबर दी. जिसके बाद कोलेबिरा बीडीओ अखिलेश कुमार ने दलबल के साथ जाकर परिवार को कब्जे में लिया और कोलेबिरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया.

दरअसल ग्रामीणों को जब इस बात का पता चला कि हिंदपीढ़ी से एक दंपति कोलेबिरा आया हुआ है, तो गांव में हड़कंप मच गया. गांववालों ने इसकी सूचना प्रशासन को दी और प्रशासन ने परिवार को आइसोलेशन वार्ड में भेज दिया. लोगों का कहना है कि हिंदपीढ़ी कंटेनमेंट जोन के रूप में घोषित है. वहां जिला पुलिस के साथ-साथ सीआरपीएफ की भी तैनाती की गई है. लेकिन इसके बावजूद परिवार वहां से निकल गया. और 125 किलोमीटर स्कूटी चलाकर कोलेबिरा पहुंच गया. इससे प्रशासनिक व्यवस्था पर सवाल खड़े होते हैं.प्रशासन ने दंपति को आइसोलेशन वार्ड में भेजने के बाद गांव को भी सेनिटाइज कराया. कोलेबिरा बीडीओ अखिलेश कुमार ने बताया कि मंगलवार रात को एक परिवार रांची से स्कूटी से कोलेबिरा पहुंचा था. इसकी जानकारी मिलते ही प्रशासन ने परिवार को कब्जे में लेकर आइसोलेशन वार्ड में भेज दिया. पति-पत्नी और बच्चे का सैम्पल लेकर जांच के लिए इटकी भेज दिया गया है. पूरे गांव को सेनिटाइज किया गया है. बिना अनुमति के जिला में प्रवेश करने के मामले में पति-पत्नी पर केस दर्ज की गई है.

Load More By Bihar Desk
Load More In झारखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर सीएम नीतीश ने दी बधाई, कही ये बात, पढ़ें

बिहार के सीएम ने  बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर प्रदेश एवं देशवासियों को बिहार के रा…