Home सियासत मजदूरों के रेल किराये पर बिहार-दिल्ली सरकार में तकरार, संजय झा बोले- कोरोना काल में ऐसी ओछी राजनीति शोभा नहीं देती

मजदूरों के रेल किराये पर बिहार-दिल्ली सरकार में तकरार, संजय झा बोले- कोरोना काल में ऐसी ओछी राजनीति शोभा नहीं देती

11 second read
0
0
180

नई दिल्ली। कोरोना लॉकडाउन की वजह से दिल्ली में फंसे बिहार के प्रवासी मजदूरों की घर वापसी को लेकर नीतीश सरकार और केजरीवाल सरकार में तकरार देखने को मिल रही है। बिहार के प्रवासी मजदूरों को स्पेशल ट्रेन से घर भेजने और उनके टिकट के पैसे को लेकर जैसे ही केजरीवाल सरकार के मंत्री ने दावा किया, उसके तुरंत बाद बिहार सरकार में मंत्री संजय कुमार झा ने के पलटवार कर दिया। संजय झा ने आरोप लगाया है कि श्रमिकों के ट्रेन किराया को लेकर दिल्ली सरकार के मंत्री झूठ बोल रहे हैं, क्योकि दिल्ली सरकार ने बिहार सरकार से किराया रिइम्बर्स कराने की मांंग के लिए एक पत्र लिखा है।

दरअसल, शुक्रवार को बिहार के मुजफ्फरपुर के लिए दिल्ली से 1200 श्रमिकों को लेक एक ट्रेन खुली। इसके बाद केजरीवाल सरकार में मंत्री गोपाल राय ने ट्वीट किया कि श्रमिकों को लेकर दिल्ली से मुजफ्फरपुर बिहार के लिए रवाना हुई ट्रेन में सवार सभी 1200 लोगों का किराया अरविंद केजरीवाल सरकार देगी। 

इस ट्वीट के बाद बिहार सरकार में मंत्री संजय कुमार झा की प्रतिक्रिया आई है और उन्होंने गोपाल राय के ट्वीट का स्क्रीनशॉट लेकर ट्वीट किया, ‘ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहले ही साफ कर चुके हैं कि हम श्रमिकों को भाड़े की रकम के अलावा 500 रुपए अतिरिक्त भी देंगे, तो दिनदहाड़े दिल्ली सरकार के मंत्री झूठ क्यों बोल रहे हैं? यह तो नीतिगत बात है, लेकिन आप कोविड-19 के समय भी इतनी ओछी राजनीति करें, शोभा नहीं देता।’

उन्होंने एक और ट्वीट कर दावा किया कि केजरीवाल सरकार ने बिहार सरकार को किराया वापसी के लिए एक रिइंबर्शमेंट लेटर दिया है। उन्होंने लिखा- अरविंद केजरीवाल जी, झूठ के साथ समस्या यही है कि आप भूल जाते हैं कि कब क्या बोल चुके हैं? अब देखिए न, आपके मंत्री गोपाल राय ट्विटर पर सफेद झूठ बोल रहे हैं कि दिल्ली से मुजफ्फरपुर आने वाली ट्रेन का किराया आपकी सरकार देगी, फिर चिट्ठी भेजकर हमसे पैसे भी मांगते हैं।’

Load More By Bihar Desk
Load More In सियासत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत आमाघाटा मौजा में 30 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के बेनामी जमीन का हुआ खुलासा

धनबाद : 10 एकड़ से अधिक भूखंड का कोई दावेदार सामने नहीं आ रहा है. बाजार दर से इस जमीन की क…