Home झारखंड Lockdown को लेकर और सख्ती, धनबाद में शाम 7 से सुबह 7 बजे तक निषेधाज्ञा लागू

Lockdown को लेकर और सख्ती, धनबाद में शाम 7 से सुबह 7 बजे तक निषेधाज्ञा लागू

4 second read
0
0
69

धनबाद. कोविड-19 (Covid-19) से बचाव, रोकथाम एवं इसके संभावित प्रसार को रोकने के लिए धनबाद में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा (Prohibitory Orders) लगाया गया है. अनुमंडल दंडाधिकारी राज महेश्वरम ने तत्काल प्रभाव से अगले आदेश तक शाम 7:00 बजे से सुबह 7:00 बजे तक निषेधाज्ञा लगाने का ऐलान किया. हालांकि आवश्यक सेवा प्रदान करने वाले कार्यालय और प्रतिष्ठान इस प्रतिबंध से बाहर रहेंगे. इस अवधि में सभी नागरिक अपने घर में ही रहेंगे. बुनियादी आवश्यकता की पूर्ति के क्रम में बाहर जाने पर सामाजिक दूरी के दिशा निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन करेंगे.लॉकडाउन में शाम 7:00 बजे से सुबह 7:00 बजे तक किसी भी परिस्थिति में, चिकित्सा कार्य को छोड़कर, कोई भी व्यक्ति बाहर नहीं निकलेंगे. यदि कोई व्यक्ति इसका उल्लंघन करते पकड़े गये, तो उस पर आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 तक एवं भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत भारतीय दंड संहिता की महामारी से संबंधित सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी. धारा 144 के उल्लंघन के तहत भी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगीअनुमंडल दंडाधिकारी ने कहा कि इस अवधि में पांच या पांच से अधिक व्यक्ति एक स्थान पर एकत्रित नहीं हो सकेंगे और ना ही नाजायज मजमा लगाएंगे. अनुमंडल क्षेत्रों में सभी प्रकार के कार्यक्रम जहां पांच या पांच से अधिक व्यक्तियों की उपस्थिति होने की संभावना है, वैसे कार्यक्रम के आयोजन की अनुमति नहीं होगी. निषेधाज्ञा की अवधि में अंतरराज्यीय वाहनों के परिचालन एवं यात्रा करने वालों को जांच के बाद ही अपने गंतव्य तक जाने की अनुमति होगी.अनुमंडल दंडाधिकारी ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति दिशा निर्देश का अनुपालन एवं आवश्यक वांछित सूचना ससमय उपलब्ध कराने में असहयोग करेगा, तो उस पर आईपीसी 1860 की धारा 270 के तहत एवं सीआरपीसी 1973 के तहत धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में कार्रवाई की जाएगी. यदि कोई कोविड-19 से पीड़ित या क्वॉरंटाइन या आइसोलेशन वार्ड में भर्ती व्यक्ति बिना कोई सूचना दिए चिकित्सालय से भाग जाते हैं, तो वैसे व्यक्ति पर भी जांच में अपेक्षित सहयोग नहीं करने या दिशा-निर्देश का अवहेलना करने के आरोप में आईपीसी 1860 के धारा 270 के तहत एवं सीआरपीसी 1973 के तहत धारा 144 उल्लंघन के तहत कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी.

Load More By Bihar Desk
Load More In झारखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

झारखंड के धनबाद जिला अंतर्गत आमाघाटा मौजा में 30 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के बेनामी जमीन का हुआ खुलासा

धनबाद : 10 एकड़ से अधिक भूखंड का कोई दावेदार सामने नहीं आ रहा है. बाजार दर से इस जमीन की क…