Home बड़ी खबर रेड जोन वाले राज्यों से आनेवाले प्रवासियों को अलग रखने की होगी व्यवस्था

रेड जोन वाले राज्यों से आनेवाले प्रवासियों को अलग रखने की होगी व्यवस्था

0 second read
0
0
127

मुंगेर।  कोरोना संकट से निपटने को लेकर मुंगेर जिला में चल रही कार्रवाई की समीक्षा को लेकर मुख्य सचिव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग की। इसके बाद जिलाधिकारी राजेश मीणा ने सभी एसडीओ, बीडीओ, सीओ और थानाध्यक्षों जानकारी दी।

रविवार को डीएम ने प्रखंड स्तरीय क्वारंटाइन कैंप की व्यवस्था सुदृढ़ करने, प्रवासी मजदूरों के कुशलताओं का वर्गीकरण और लॉकडाउन के क्रियान्वयन की स्थिति की समीक्षा की। डीएम ने कहा कि रेड जोन वाले राज्यों से आने वाले प्रवासी के लिए प्रखंडस्तरीय क्वारंटाइन कैंप में ग्रीन और ऑरेंज जोन से आने वाले लोगों से अलग रखें। 04-05 व्यक्तियों पर एक शौचालय की व्यवस्था रखें। शारी‍रिक दूरी का सख्ती से अनुपालन कराएं। ग्रीन और ऑरेंज जोन से आने वाले प्रवासियों के लिए आवश्यकता पड़ने पर पंचायत एवं गांव स्तर पर बनाए गए क्वारंटाइन कैंप में रखने करने की व्यवस्था करें।

अभी से अलग अलग जोन से आने वाले प्रवासियों के लिए अलग अलग क्वारंटाइन कैंप की जगह सुनिश्चित कर लें। बीडीओ को बाहर से आए मजदूरों के कुशलता का डाटाबेस तैयार कराने के निर्देश दिए गए। डीएम ने कहा कि रेड जोन से आने वाले मजदूरों को ग्रीन और ऑरेंज जोन से आने वाले मजदूरों के साथ मिश्रित नहीं करें। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ेगा। डीएम ने कहा कि क्वारंटाइन अवधि को रोचक एवं सुखद बनाने के लिए क्वारंटाइन कैंप पर योगा, खेलकूद, चित्रंकन, पौधा रोपण आदि गतिविधि शुरू करें। डीएम ने सभी बीडीओ से कहा कि ऐसे कार्यक्रम का वीडियो और तस्वीर भेंजे। ताकि, विभागीय स्तर पर इसका दस्तावेजीकरण किया जा सके। उन्होंने खाने की गुणवत्ता से किसी प्रकार से समझौता नहीं करने के निर्देश दिए। बताते चलें कि अब तक कुल 850 प्रवासी मजदूर विभिन्न केंद्रों पर आवासित किए गए हैं।

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार में जल्द ही दे सकता है मानसून दस्तक, पढ़ें और जाने

मंगलवार को पटना समेत प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में हुई बारिश से तापमान में गिरावट दर्ज की …