Home बड़ी खबर राजधानी में पहली बार रिकॉर्ड तोड़ 18 मिले कोरोना पॉजिटिव

राजधानी में पहली बार रिकॉर्ड तोड़ 18 मिले कोरोना पॉजिटिव

1 second read
0
0
161

पटना । राजधानी में मंगलवार को एक दिन में सर्वाधिक 18 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। पालीगंज का नया इलाका भी कोरोना की चपेट में आ गया। देर रात आई रिपोर्ट में यहां छह कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा पंडारक के तीन, बाढ़ के दो और बेलछी के एक युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बीएमपी के भी छह नए जवान संक्रमित मिले हैं।

सभी की उम्र 23 वर्ष से लेकर 42 वर्ष के बीच है। छह बीएमपी जवानों को छोड़ दें तो शेष सभी 12 लोग अन्य प्रदेशों से लौटे हैं और अपने प्रखंड मुख्यालय में बने क्वारंटाइन सेंटर में रखे गए हैं।  इनमें से 38 मामले सिर्फ तीन दिनों में आए हैं। पटना में अब तक 90 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं।

बीएमपी के और जवान आएंगे जांच के दायरे में

सिविल सर्जन डॉ. राजकिशोर चौधरी ने बताया कि मंगलवार को छह नए समेत अबतक बीएमपी के 20 जवानों कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। बीएमपी-14 के 68 समेत 110 लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। वहीं सोमवार को भेजे गए नमूनों में से 136 की रिपोर्ट आनी बाकी है। लंबित रिपोर्ट में से 90 प्रवासियों की है। बीएमपी-14 के सेवानिवृत्त जवान के संक्रमित होने के बाद उसके साथ रहने वाल बैरक के पांच अन्य जवानों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद गत शनिवार को अस्पतालकर्मियों और डीएसपी रैंक और उससे नीचे के अफसर समेत 75 लोगों के सैंपल जांच को भेजे गए थे।

14 प्रवासियों का लिया सैंपल 66 लोग किए गए क्वारंटाइन

चेन्नई से लाल इमली मोहल्ला लौटे तीन, तमिलनाडु से दीदारगंज लौटे तीन, दिल्ली से महाराजगंज लौटे दो, बेलवरगंज लौटे चार लोगों समेत 14 लोगों का सैंपल लिया गया है। सभी का सैंपल जांच के लिए आरएमआरआइ भेजा गया है। श्रद्धालु निवास स्थित क्वारंटाइन सेंटर में 66 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है।

दिल्ली से आए 84 में से 8 की रिपोर्ट पॉजिटिव

दिल्ली से लौटे प्रवासी पटना को भारी पड़ रहे हैं। अबतक दिल्ली से आए 84 में से 8 की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। वहीं गुजरात के सूरत से आए 61 में से एक और यूपी से लौटे 32 में से एक पॉजिटिव पाया गया है। आश्चर्यजनक रूप से मुंबई से आए 47 लोगों में से अभी 25 की रिपोर्ट आई है और सभी निगेटिव हैं। 268 प्रवासियों में से कुल दस लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 161 की रिपोर्ट निगेटिव है जबकि 97 अभी लंबित हैं। सिविल सर्जन डॉ. राजकिशोर चौधरी ने बताया कि अब हर क्वारंटाइन सेंटर में दिल्ली से आए सभी लोगों की जांच कराई जाएगी। बाढ़ और बख्तियारपुर में प्रवासियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए नए क्वारंटाइन सेंटर बनाने को निरीक्षण करने स्वास्थ्य विभाग की टीम गई थी।

कंटेनमेंट जोन में सन्नाटा

आलमगंज थाना के वार्ड 58 अंतर्गत माखनपुर ईदगाह रोड स्थित जिस गली में कोरोना पॉजिटिव महिला मिली थी, उसमें मंगलवार को सन्नाटा पसरा रहा। बांस लगाकर सील की गयी इस गली में बाहरी लोगों की आवाजाही बंद है। वाहन एवं वेंडरों के आने पर भी रोक है। वहीं एनएमसीएच की आइसीयू में भर्ती महिला की बहू एवं नतनी का भी सैंपल कोरोना लिया गया। एसडीओ राजेश रोशन ने कहा कि जरूरी सामान पहुंचाए जा रहे हैं।

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर सीएम नीतीश ने दी बधाई, कही ये बात, पढ़ें

बिहार के सीएम ने  बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर प्रदेश एवं देशवासियों को बिहार के रा…