Home झारखंड कोरोना संकट में झारखंड सरकार को 26 लाख पौधे लगवाने की क्यों सूझी

कोरोना संकट में झारखंड सरकार को 26 लाख पौधे लगवाने की क्यों सूझी

4 second read
0
0
61

रांची. कोरोना संकट (Corona Crisis) की इस घड़ी में हेमंत सोरेन सरकार (Hemant Government) ने सूबेभर में 26 लाख पौधे (Plants) लगवाने की योजना बनाई है. ये वैसे पौधे होंगे, जो आगे चलकर राज्य को फल उत्पादन के मामले में नई पहचान दिलाएंगे. दरअसल सरकार ने एक जिला, एक फल की तैयारी की है, यानी हर जिला किसी खास फल के उत्पादन में योगदान देगा. इस योजना के तहत बाहर से प्रदेश लौट रहे हजारों मजदूरों (Laborer) को रोजगार भी मिलेगा.कोरोना काल की परेशानियों को अवसर में बदलने की तैयारी हेमन्त सोरेन सरकार ने कर ली है. कृषि विभाग, ग्रामीण विकास विभाग और बिरसा कृषि विश्वविद्यालय (बीएयू) के सहयोग से राज्य के प्रत्येक प्रखण्ड में सौ पौधे वाला बागान लगाएगा. कृषि विभाग ने इसके लिए सभी जिलों के डीसी और डीडीसी को तैयारी करने के लिए कहा है.कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि बागान के अलावा बकरी पालन के जरिये सरकार ऐसी व्यवस्था बनाने की कोशिश में है कि राज्य में ही मजदूरों को रोजगार मिल सके. उन्हें दो जून की रोटी के लिए दूसरे प्रदेश न जाना पड़े.

Load More By Bihar Desk
Load More In झारखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

रोहतास के विधायक के पोते संजीव मिश्रा की हत्‍या मामले में एसपी आशीष भारती ने थानेदार को किया सस्‍पेंड

रोहतास: एसपी आशीष भारती ने परसथुआ के ओपी अध्यक्ष मो कमाल अंसारी को सस्पेंड कर दिया है। उनक…