Home सियासत प्रधानमंत्री मोदी के लॉकडाउन पैकेज पर सियासत जारी, कांग्रेस ने बताया धोखा तो तेजस्‍वी ने भी खड़े किए सवाल

प्रधानमंत्री मोदी के लॉकडाउन पैकेज पर सियासत जारी, कांग्रेस ने बताया धोखा तो तेजस्‍वी ने भी खड़े किए सवाल

0 second read
0
0
20

पटना । कोरोना संक्रमण को लेकर जारी लॉकडाउन में अर्थव्‍यवस्‍था को सहारा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज पर बिहार में सियासत तेज है। कांग्रेस ने इसे ‘झांसा पैकेज’ बताया है तो बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी इसपर सवाल खड़े किए हैं।

बिहार कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ के पैकेज को झांसा पैकेज बताया है। बिहार कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी व विश्व के जाने माने अर्थशास्त्रियों के सुझाव के अनुसार आम आदमी, गरीब मजदूर, किसान, छोटे व्यवसायी, असंगठित कामगारों के कामों को त्वरित गति देने के लिए मुद्रा वितरण कर अर्थव्यस्था को बहुत तेजी से पटरी पर लाना जरूरी है। इन सुझावों के बाद प्रधानमंत्री ने दबाव में आकर अर्थव्यवस्था को त्वरित गति देने के बजाय झांसा देने की ही कोशिश की है।

प्रधानमंत्री की 20 लाख करोड़ पैकेज की घोषणा में से 66 पूर्व की बजटीय योजनाएं हैं। वित्त मंत्री ने भी छह लाख करोड़ की योजनाओं की विस्तृत जानकारी देकर यह साबित कर दिया कि यह भी झांसा पैकेज ही है। कादरी ने कहा कि अधिकांश घोषित छूट हैं या छूट की समय सीमा बढाई गयी है। इसकी अनुमानित राशि को पैकेज कहना ही गलत है।

कादरी ने कहा कि एमएसएमई सेक्टर, कुटीर उद्योग व आम जनता तक के निजी ऋण के लिए 30 हजार करोड़ की राशि बहुत ही छोटी राशि है। इससे ज्यादा राशि तो पिछले बजट में घोषित की गई थी।

तेजस्‍वी ने नीतीश से मांगी पहले पैकेज की स्‍टेटस रिपोर्ट

इसके पहले तेजस्वी यादव ने ट्वीट में लिखा कि नरेंद्र मोदी ने साल 2015 में भी बिहार के विकास के लिए 1.65 लाख करोड़ के भारी-भरकम पैकेज की घोषणा की थी। तेजस्‍वी यादव ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से अनुरोध किया है कि वे उस पैकेज पर स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करें या उसपर अपना बयान ही जारी करें।

प्रधानमंत्री के 20 लाख करोड़ के पैकेज पर आरजेडी के मुख्य प्रवक्ता व राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा कि प्रधानमंत्री ने स्‍वदेशी व आत्मनिर्भरता आदि की अच्‍छी बातें की, लेकिन उनका ब्लूप्रिंट नहीं बताया। वे हमारे देश के 70 फीसद लोगों की जिंदगी में कैसे बदलाव लाएंगे, यह भी नहीं बताया।  जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व सांसद पप्पू यादव ने भी पैकेज पर सवाल उठाए हैं। उधर, राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रधान महासचिव माधव आनंद ने बिहार के लिए 1.50 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की मांग की है।

विपक्ष के विरोध के बीच राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के घटक दल प्रधानमंत्री के पैकेज के समर्थन में खड़े हैं। बिहार के उपमुख्यमंत्री व बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह , बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार, एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान आदि अनेक एनडीए नेताअों ने पैकेज का स्‍वागत किया है।

Load More By Bihar Desk
Load More In सियासत

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार में मौसम हुआ सुहाना, 14 जिलों में जारी किया येलो अर्लट

 उत्तरी बिहार में पुरवा के कारण मौसम सुहाना बना है। सूबे के दक्षिणी भाग में शुष्क हवा…