Home बड़ी खबर बीएमपी परिसर से सर्वाधिक मामले, ये हैं पटना के हॉट-स्‍पॉट्स

बीएमपी परिसर से सर्वाधिक मामले, ये हैं पटना के हॉट-स्‍पॉट्स

20 second read
0
0
165

पटना । कोरोना संक्रमण के मामले में बिहार के सर्वाधिक प्रभावित जिला पटना में अब तक रिकॉर्ड 164 मामले सामने आ चुके हैं। खास इलाकों की बात करें तो बिहार सैन्‍य पुलिस , बाढ़, खाजपुरा व अथमलगोला के इलाके विशेष प्रभावित हैं। इनमें बीएमपी व खाजपुरा के इलाके हॉट-स्‍पॉट बनकर उभरे हैं। पटना के रूपसपुर मोड़ व छोटी पहाड़ी को भी कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है। पूर्व में कंटेनमेंट जोन घोषित पटेल नगर के आदर्श नगर की गली नंबर पांच को पुन: सील किया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण की चेन को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन के सोमवार से आरंभ चौथे चरण में हॉट-स्‍पॉट व कंटेनमेंट जोन के इलाकों में कोई अतिरिक्‍त छूट नहीं मिलने जा रही है। वहां लॉकडाउन का सख्‍ती से पालन कराया जाएगा।

बीएमपी परिसर से मिले सर्वाधिक मामले

पटना में सर्वाधिक मामले बीएमपी परिसर से मिले हैं। वहां 50 लोगों की चेन में 48 जवान व दो स्वजन शामिल हैं। सात मई से अबतक बीएमपी के 48 जवान संक्रमित हो चुके हैं। रविवार को पहली बार एक जवान की पत्नी और बेटी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जवान का परिवार रूपसपुर मोड़ के पास रहता था। इसके बाद से बीएमपी परिसर में हड़कंप मचा हुआ है। अस्पताल की एक चिकित्सक भी क्वारंटाइन है।

छोटी पहाड़ी और रूपसपुर मोड़ नए कंटेनमेंट जोन

सिविल सर्जन डॉ. राजकिशोर चौधरी ने बताया कि रूपसपुर मोड़ जहां एक बीएमपी जवान की पत्नी व बेटी संक्रमित पाई गई और छोटी पहाड़ी जहां एनएमसीएच की संक्रमित नर्स रहती है, दोनों को कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है। वहीं पूर्व में कंटेनमेंट जोन घोषित पटेल नगर के आदर्श नगर की गली नंबर पांच को पुन: सील किया जाएगा।

बीएमपी कैंपस को बनाया आइसोलेशन वार्ड

जिलाधिकारी कुमार रवि के निर्देश पर बीएमपी कैंपस को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कर दिया गया है। कमांडेंट को आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। सिविल सर्जन डॉ. राजकिशोर चौधरी ने बताया कि सभी बेड के बीच दो-दो मीटर की दूरी सुनिश्चित कर बैरक को सील कर दिया जाएगा। कोई भी बैरक से न बाहर निकल सकेगा और न ही अंदर जा सकेगा।

पटना में क्षेत्रवार संक्रमण के मामले

– बीएमपी-  48

– बाढ़ –   28

– खाजपुरा –   22

– अथमलगोला 16

– पॉलीगंज  7

– बेलछी –      7

– पंडारक   5

– पटनासिटी – 5

– नौबतपुर –    4

– राजाबाजार –  4

– फुलवारीशरीफ 3

– दीघा    –  3 

– खेमनीचक – 2

– पटेलनगर –   2

– आइजीआइएमएस 2

– आशियानानगर – 2

– आरपीएस मोड़ 2

– न्यू पाटलिपुत्र कॉलोनी 1

– खुशरूपुर – 1

– दानापुर  -2

– फतुहा : 1

– बख्तियारपुर : 1

– संपतचक – 1

Load More By Bihar Desk
Load More In बड़ी खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

राज्य में शिक्षक पात्रता परीक्षा (टेट) राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) की नई गाइडलाइन मिलने के बाद ही होगी

रांची: स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग यह गाइडलाइन मिलने के बाद उसके अनुसार, नियमावली में…