Home झारखंड कोरोना से जंग के लिए 100 करोड़, हेमंत कैबिनेट ने 15 प्रस्तावों पर लिये फैसले

कोरोना से जंग के लिए 100 करोड़, हेमंत कैबिनेट ने 15 प्रस्तावों पर लिये फैसले

12 second read
0
0
11

रांची. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) के नेतृत्व में बुधवार को कैबिनेट की बैठक (Cabinet meeting) हुई. इसमें कुल 15 प्रस्तावों पर मुहर लगाई गई. सरकार के फैसले की जानकारी देते हुए कैबिनेट सचिव अजय कुमार सिंह ने बताया कि उग्रवाद प्रभावित जिलों में युवाओं के लिए कौशल विकास योजना के अंतर्गत रांची, खूंटी, रामगढ़, सिमडेगा, दुमका एवं गिरिडीह में एक-एक आईटीआई के निर्माण के लिए कुल 34 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई है.कोरोना वायरस (कोविड-19) की रोकथाम के लिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली एवं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, नई दिल्ली के द्वारा टेस्टिंग किट, इलाज के लिए सामग्री एवं दवा की आपूर्ति हेतु चिन्हित कंपनियों एवं भारत सरकार के निर्देशानुसार एमआरपी पर अन्य राज्यों के आपूर्तिकर्ता एजेंसियों से क्रय की मंजूरी दी गई है.ई कोर्ट प्रोजेक्ट के तहत राज्य के जिला न्यायालयों एवं झारखंड उच्च न्यायालय हेतू सृजित सिस्टम ऑफिसर के कुल 23 पदों को दिनांक 1 अप्रैल 2020 से दिनांक 31 मार्च 2021 तक की अवधि के लिए विस्तार की स्वीकृति दी गई है.राज्य खाद्य जांच प्रयोगशाला, नामकुम, रांची में अनुबंध के आधार पर कार्यरत खाद्य विश्लेषक चतुर्भुज मीणा का अनुबंध अवधि विस्तार की स्वीकृति दी गई.पलामू जिला अंतर्गत अंचल सदर मेदनीनगर के ग्राम-पोखराहा खुर्द में कुल रकबा 10 एकड़ गैरमजरूआ भूमि केंद्रीय विद्यालय की स्थापना के लिए केंद्रीय विद्यालय संगठन, मानव संसाधन विकास विभाग, भारत सरकार, नई दिल्ली को नि:शुल्क भू- हस्तांतरण करने की स्वीकृति दी गई.NABARD-RIDF-XXI के तहत 29 जलछाजन परियोजनाओं को 2 वर्ष की अवधि विस्तार दी गई.विधायक योजना अंतर्गत कोविड-19 के दौरान आर्थिक समस्याओं का सामना करने वाले परिवारों को आर्थिक सहायता के लिए प्रावधान को स्वीकृतिविधायक योजना अंतर्गत DC विपत्र लंबित रहते हुए भी चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 में आवंटित राशि में से 25 लाख की निकासी की स्वीकृति.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013 के लाभुकों को अप्रैल 2020 से जून 2020 तक की अवधि के लिए 5 किलोग्राम खाद्यान्न (चावल) प्रति लाभुक प्रतिमाह मुफ्त वितरित करने हेतु खाद्यान्न के परिवहन, हथालन एवं वितरण कार्य के लिए 84.95 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी गई.

ग्रामीण विकास विभाग (झारखंड राज्य जलछाजन मिशन) द्वारा RIDF-XXI के तहत 29 जलछाजन परियोजनाओं के कार्यान्वयन हेतु राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) से 22923.21 लाख रुपये के ऋण की स्वीकृति.

पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा RIDF-XXV के तहत 6 ग्रामीण जलापूर्ति परियोजनाओं के कार्यान्वयन हेतु राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) से 10468.38 लाख रुपये के ऋण की स्वीकृति

वित्तीय वर्ष 2020-21 में राज्य में नोबेल कोरोना वायरस (कोविड-19) की रोकथाम एवं बचाव संबंधी कार्यों के लिए झारखंड आकस्मिकता निधि (JCF) से कुल राशि 100 करोड़ रुपये अग्रिम स्वीकृति दी गई.

Load More By Bihar Desk
Load More In झारखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार के इस बच्चे की बॉलीवुड एक्ट्रेस गौहर खान करेंगी मदत, पढ़ें

छठी क्लास में पढ़ने वाले 11 साल के सोनू कुमार ने हाल ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार के सामने…