Home झारखंड कोयलांचल में भारत बंद का नहीं दिखा खास असर, सड़कों पर भाजपा विरोधी दलों ने दिखाई ताकत

कोयलांचल में भारत बंद का नहीं दिखा खास असर, सड़कों पर भाजपा विरोधी दलों ने दिखाई ताकत

4 second read
0
0
291

धनबाद: तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग लेकर किसान संगठनों ने मंगलवार को भारत बंद का आह्वान किया था। किसान संगठनों के बंद को केंद्र में सत्ताधारी भाजपा और उसके सहयोगी दलों को छोड़कर तमाम विपक्षी राजनीतिक दलों और मजदूर संगठनों ने समर्थन किया। धनबाद में बंद को सफल बनाने के लिए तमाम विपक्षी दल और मजदूर संगठन सड़क पर उतरें। हालांकि बंद के दाैरान आम जनता और किसानों की भागीदारी नहीं दिखी। सड़कों पर राजनीतिक दलों के नेताओं ने अपनी उपस्थिति और ताकत दर्ज कराई। 

धनबाद-बोकारो मुख्य मार्ग पर गोधर में बंद समर्थकों ने जाम लगा रखा है। कांग्रेस ने किसानों के पक्ष में यहां सड़क जाम कर रखा है। गोधर मोड़ में सुबह आठ बजे से ही बंद समर्थकों ने बस एवं छोटे वाहनों को सड़क के बीचो बीच खड़ा कर दिया। इस कारण दोनों तरफ से ट्रक, बस, कार, ऑटो का जाम लगया हुआ है।

कृषि को लेकर केंद्र सरकार ने तीन नए कानून बनाए हैं। इसी के खिलाफ किसान संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया है। इस बंद को झारखंड में सत्तारूढ़ दल झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस, राजद समेत केंद्र सरकार के सभी विपक्षी दलों ने अपना समर्थन दिया है। समर्थन को लेकर सुबह से ही कांग्रेस के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे हुए हैं।

बंद का समर्थन कर रहे झामुमो के नेता और विधायक मथुरा प्रसाद महतो ने कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों की सहमति के बिना ही कृषि बिल लाने का काम किया है। यह बिल किसान हित में नहीं है। इस बिल से किसानों की खेती पर बहुराष्ट्रीय कंपनियों एवं पूंजीपतियों का कब्जा होगा, जो यहां की खेती और किसानी के लिए लाभदायक नहीं है।

नई दिल्ली-कोलकाता एनएच-2 (जीटी रोड) धनबाद होकर गुजरता है। यह देश का एक प्रमुख व्यस्तम मार्ग है। इसपर बंद का असर देखने को मिल रहा है। बंद समर्थकों ने गोविंदपुर में टायर जलाकर जीटी रोड का जाम कर दिया है। इससे वाहनों के पहिए थम गए हैं। किसान विरोधी कानून के खिलाफ एवं किसान आंदोलन के समर्थन में मासस के बैनर तले लोग मंगलवार सुबह जीटी रोड पर उतरे। किसान कानून के विरुद्ध नारा लगाते हुए जीटी रोड पर टायर जलाकर सड़क को जाम कर दिया।

भारत बंद के दाैरान धनबाद में रेल परिचालन पर फिलहाल असर देखने को नहीं मिल रहा है। धनबाद होकर हावड़ा-नई दिल्ली रेल लाइन गुजरती है। मंगलवार सुबह इस रूट की दो सबसे महत्वपूर्ण ट्रेन, नई दिल्ली-सियालदह राजधानी एक्सप्रेस और नई दिल्ली-हावड़ा राजधानी एक्सप्रेस धनबाद स्टेशन होकर पार कर गईं। रेल परिचालन प्रभावित न हो इसके लिए रेलवे अलर्ट है। पटरियों पर पेट्रोलिंग की जा रही है। 

Load More By Bihar Desk
Load More In झारखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

जदयू के खिलाफ़ बिहार भाजपा अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल ने की बयानबाज़ी, कही ये बात, पढ़ें

बिहार विधानमंडल का मानसून सत्र शुक्रवार से शुरुआत हो गई है। 30 जून तक चलने वाले सत्र में स…