Home ताजा खबर दरभंगा लूट कांड पर लोजपा व विपक्ष ने सीएम नीतीश पर बोला हमला, सीआइडी व एसटीएफ ने संभाला मोर्चा

दरभंगा लूट कांड पर लोजपा व विपक्ष ने सीएम नीतीश पर बोला हमला, सीआइडी व एसटीएफ ने संभाला मोर्चा

1 second read
0
0
186

पटना: सुरक्षा व्यवस्था को खुली चुनौती देते हुए बेखौफ बदमाशों ने दरभंगा शहर के बीचोबीच स्वर्ण व्यवसायी की दुकान से बुधवार ( नौ दिसंबर) दिनदहाड़े करीब सात करोड़ के आभूषण लूट लिए। लूट के दौरान बदमाशों ने 25 -30 राउंड फायरिंग की। मंगलवार को पुलिस ने दावा किया था बिहार में अपराध की घटनाएं कम हुई हैं। अगले दिन ही अपराधियों ने तमंचे से कई राउंड फायरिंग  कर तांडव मचा दिया। बता दें कि घटना स्‍थल से महज पांच सौ मीटर पर पुलिस चौकी है, मगर घटना के आधे घंटे बाद पुलिस मौका ए वारदात पर  पहुंची।

घटना को लेकर विपक्षी दलों ने भी सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला है। अपराध की इस बड़ी घटना के बाद पुलिस और प्रशासन की खूब किरकिरी हुई। इसके बाद अब सीआइडी और स्‍पेशल टास्‍क फोर्स की टीमें दरभंगा भेजी गई है।

दरभंगा में लूट की बड़ी वारदात पर ट्वीट करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री पर टिप्पणी की। अपने ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा कि हथियारबंद अपराधियों ने दिनदहाड़े भरे बाजार में कई राउंड फायरिंग की। दस करोड़ का सोना लूट ले गए। चंद कदम दूर ही एसपी अ़ॉफिस और भाजपा एमएलए का आवास है। जबाव कौन देगा तीस साल पहले के सीएम या वर्तमान सीएम? अपने ट्वीट के साथ तेजस्वी ने घटना के वीडियो फुटेज को भी टैग किया है।

लोक जनशक्ति पार्टी ने दरभंगा में लूट की घटना को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। पार्टी के पूर्व प्रधान महासचिव डॉ.शाहनवाज अहमद कैफी एवं मीडिया प्रभारी कृष्ण सिंह कल्लू ने बयान जारी कर कहा कि बढ़ते अपराध से प्रदेश की हालत बद से बदतर हो गई है। राज्य में 12 करोड़ आबादी दहशत में जी रही है। लोजपा नैतिकता के आधार पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस्तीफा देने की मांग करती है।

लोजपा नेताओं ने अपने बयान में कहा कि दरभंगा शहर में जो लूट की वारदात हुई वह निंदनीय ही नहीं बल्कि राज्य सरकार को अपराधियों की खुली चुनौती है। इस तरह की घटना यह साबित करती है कि सरकार अपराध पर पूरी तरह से नियंत्रण नहीं कर पा रही है।

दरभंगा लूट कांड के बाद कांग्रेस के विधान परिषद सदस्य प्रेमचंद मिश्रा ने राज्य में बढ़ते आपराधिक घटनाओं को सरकार की बड़ी विफलता बताते हुए राज्य में पूर्णकालिक गृहमंत्री की मांग की है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की अपनी व्यस्तता होती है और ऐसा लगता है कि वे विधि व्यवस्था को लेकर उतना समय नहीं निकाल पाते हैं, जितना निकालना चाहिए। ऐसे में सत्तारूढ़ दलों से आग्रह है कि बिहार के लोगों के सुरक्षित जनजीवन के लिए तत्काल राज्य को पूर्णकालिक गृहमंत्री दें।

उन्होंने दरभंगा में दिनदहाड़े स्वर्ण व्यापारी से  लूट की घटना को अपराधियों के बढ़े हुए मनोबल का द्योतक बताते हुए कहा कि लगता है बिहार में सरकार नाम की कोई चीज ही नहीं रही। अपराधी लगातार हत्या और लूट की वारदात को अंजाम दे रहे हैं और पुलिस मूकदर्शक बनी हुई है।

अब पुलिस मुख्यालय ने दरभंगा में दिनदहाड़े लूट की घटना को चुनौती के रूप में लिया है। अपराध अनुसंधान विभाग (सीआइडी) और स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) की विशेष टीम दरभंगा भेजी गई है। यह टीम दरभंगा पुलिस की एसआइटी के अलावा काम करेगी।

बता दें कि छह-सात अपराधियों ने दरभंगा के बड़ा बाजार स्थित अलंकार ज्वेलर्स में पूरे घटना को अंजाम दिया है। लूट की घटना के बाद अपराधियों ने लौटते समय भय पैदा करने के लिए बगल की दुकान में काम करने वाले सुरेश राय के पैर में गोली मार दी। पुलिस ने दो लाख रुपये नकद लूट की भी पुष्टि की है। दरभंगा के आइजी, एसएसपी और एसपी को निर्देश दिया गया है।

Load More By Bihar Desk
Load More In ताजा खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

बिहार में बिजली गिरने से 16 की मौत, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जताया शोक

बिजली गिरने से प्रदेश के सात जिलों में 16 लोगों की मौत पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गहरा …