Home देश फिक्की की 93वीं वार्षिक बैठक, पीएम मोदी बोले- हम लोगों ने 20-20 के मैच में तेजी के साथ बहुत कुछ बदलते देखा

फिक्की की 93वीं वार्षिक बैठक, पीएम मोदी बोले- हम लोगों ने 20-20 के मैच में तेजी के साथ बहुत कुछ बदलते देखा

5 min read
0
0
406

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को को भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (FICCI) की 93वीं वार्षिक आम बैठक (एजीएम) और वार्षिक सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को डिजिटल माध्यम से संबोधित किया। इस दौरान पीएम ने फिक्की वार्षिक प्रदर्शनी 2020 का भी उद्घाटन करेंगे। यह बैठक 11, 12 और 14 दिसंबर को आयोजित हो रही है। इसका विषय ‘प्रेरित भारत’ है।

संबोधन में पीएम ने कहा कि हम लोगों ने 20-20 के मैच में तेजी के साथ बहुत कुछ बदलते देखा है। लेकिन 2020 के इस वर्ष ने सभी को मात दे दी है।

पीएम मोदी ने कहा इस साल कई उतार-चढ़ाव आए हैं और जब हम पीछे मुड़कर देखते हैं और COVID महामारी के बारे में सोचते हैं, तो शायद हमें यकीन न हो। एक अच्छा शगुन यह है कि रिकवरी की गति अच्छी है।

उन्होंने कहा कि इतने उत्तर चढ़ाव से देश और दुनिया गुजरी है कि कुछ वर्षों बाद जब हम कोरोना काल को याद करेंगे तो शायद यकीन ही नहीं आएगा। लेकिन अच्छी बात ये रही कि जितनी तेजी से हालात बिगड़े, उतनी ही तेजी के साथ सुधर भी रहे हैं।

पीएम ने कहा आर्थिक संकेतक आज आशाएं बढ़ा रहे हैं। कठिन समय के दौरान देश ने बहुत कुछ सीखा है और इसने हमारी आकांक्षाओं को और भी मजबूती प्रदान की है। इसका बहुत बड़ा श्रेय हमारे उद्यमियों, हमारे युवाओं, हमारे किसानों और सभी भारतीयों को जाता है।

कोरोना काल को लेकर पीएम मोदी बोले वैश्विक महामारी के दौरान अपने अधिकांश नागरिकों को बचाने वाला देश अन्य सभी क्षेत्रों में पुनर्जन्म करने में सक्षम है। भारत ने जान बचाने को प्राथमिकता दी और दुनिया परिणाम देख रही है। पूरे देश ने महामारी से लड़ने में कई महत्वपूर्ण कदम उठाए।

पीएम मोदी ने कहा इस महामारी के समय भारत ने अपने नागरिकों के जीवन को सर्वोच्च प्राथमिकता दी, ज्यादा से ज्यादा लोगों का जीवन बचाया। आज इसका नतीजा देश भी देख रहा है और दुनिया भी देख रही है।

पीएम मोदी ने कहा एक निर्णायक सरकार सारी शक्ति को अपने पास नहीं रखना चाहती है। इस दृष्टिकोण ने बहुत ही खराब स्थिति पैदा कर दी थी। इसके बजाय, सही सरकार चाहती है कि सभी हितधारक अपने सभी प्रतिभाओं का उपयोग करें और योगदान दें। भारत ने देखा है कि पिछले छह वर्षों में

उन्होंने कहा भारत ने जिस तरह बीते कुछ महीनों में एकजुट होकर काम किया, नीतियां बनाई, निर्णय लिए हैं, स्थितियों को संभाला है । उसने पूरी दुनिया को चकित करके रख दिया है।

मोदी ने कहा भारत का कॉर्पोरेट कर दुनिया में सबसे अधिक प्रतिस्पर्धी है। हम उन कुछ देशों में से एक हैं जिनके पास फेसलेस मूल्यांकन और फेसलेस अपील की सुविधा है।
हमने इंस्पेक्टर राज और कर आतंकवादियों के युग को पीछे छोड़ दिया है।

पीएम ने अपने सम्बोधन में आगे कहा एक जीवंत अर्थव्यवस्था में, जब कोई क्षेत्र बढ़ता है, तो इसका सीधा प्रभाव अन्य क्षेत्रों पर भी पड़ता है। हम जो सुधार कर रहे हैं, वे ऐसे सभी अनावश्यक ढांचे को हटा रहे हैं। कृषि क्षेत्र एक ऐसा उदाहरण है।

पीएम मोदी बोले हमारी अर्थव्यवस्था को क्षेत्रों के बीच बाधाओं की आवश्यकता नहीं है, लेकिन एक दूसरे का समर्थन करने के लिए पुल। पिछले कुछ वर्षों में, हमने ऐसी सभी बाधाओं को तोड़ने के लिए सुधार किए हैं।

मोदी बोले पिछले 6 वर्षों में भारत ने भी ऐसी ही सरकार देखी है, जो सिर्फ और सिर्फ 130 करोड़ देशवासियों के सपनों को समर्पित है। जो हर स्तर पर देशवासियों को आगे ले जाने के लिए काम कर रही है।

उन्होंने कहा दुनिया का सबसे बड़ा डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर सिस्टम भारत में काम कर रहा है। हाल ही में इंटरनेशनल जर्नल में इसकी काफी प्रशंसा की गई है। भारत, अधिकांश देशों के विपरीत, COVID महामारी के दौरान DBT के माध्यम से अपने गरीब और जरूरतमंदों को करोड़ों रुपये भेजने में सक्षम था।

मोदी ने आगे कहा हर महीने, UPI में हर महीने 4 लाख करोड़ रुपये का लेनदेन होता है और हर साल रिकॉर्ड टूट रहा है! देश के ग्रामीण भागों में छोटे विक्रेताओं पर भी डिजिटल भुगतान संभव हो रहा है।

मोदी ने कहा ग्रामीण भारत आज बड़े पैमाने पर बदलाव के दौर से गुजर रहा है। ग्रामीण भारत में सक्रिय इंटरनेट उपयोगकर्ता आज शहरी भारत की तुलना में अधिक है। भारत के आधे से अधिक स्टार्ट-अप टियर -2 और टियर- III शहरों में हैं।

पीएम बोले एग्रीकल्चर सेक्टर और उससे जुड़े अन्य सेक्टर जैसे एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर हो, फ़ूड प्रोसेसिंग हो, स्टोरेज हो, कोल्ड चैन हो इनके बीच हमने दीवारें देखी हैं। अब है सभी दीवारें हटाई जा रही हैं, सभी अड़चनें हटाई जा रही हैं।

उन्होंने आगे कहा कि इन रिफॉर्म्स के बाद किसानों को नए बाजार मिलेंगे,नए विकल्प मिलेंगे, टेक्नोलॉजी का लाभ मिलेगा, देश का कोल्ड स्टोरेज इंफ्रास्ट्रक्चर आधुनिक होगा। इन सबसे कृषि क्षेत्र में ज्यादा निवेश होगा। इन सबका सबसे ज्यादा फायदा मेरे देश के किसान को होने वाला है।

पीएम ने कहा आज, भारत के किसान अपनी उपज को मंडियों और साथ ही बाहर भी बेच सकते हैं। किसान अपनी उपज को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर भी बेच सकते हैं। हम किसानों की आय बढ़ाने और उन्हें और अधिक समृद्ध बनाने के लिए ये सभी पहल कर रहे हैं।

पीएम ने कहा पीएम-वाणी योजना के तहत देशभर में सार्वजनिक WiFi Hotspot का नेटवर्क तैयार किया जाएगा। इससे गांव-गांव में कनेक्टिविटी का व्यापक विस्तार होगा। मेरा आपसे आग्रह है कि रूरल और सेमी रूरल क्षेत्रों में बेहतर कनेक्टिविटी की इन प्रयासों में भागीदार बनें।

प्रधानमंत्री बोले ये निश्चित है कि 21वीं सदी के भारत की ग्रोथ को गांव और छोटे शहर ही सपोर्ट करने वाले हैं। आप जैसे entrepreneurs को गांव और छोटे शहरों में निवेश का मौका बिल्कुल नहीं गंवाना चाहिए।

पीएम ने कहा देश के कृषि क्षेत्र को मजबूत करने के लिए बीते वर्षों में तेजी से काम किये गए है। उससे भारत का एग्रीकल्चर सेक्टर पहले से कहीं अधिक वाइब्रेंट हुआ है।

मोदी बोले आज भारत के किसानों के पास अपनी फसल मंडियों के साथ ही बाहर भी बेचने का विकल्प है। आज भारत मे मंडियों का आधुनिकीकरण तो हो ही रहा है, किसानों को डिजिटल प्लेटफार्म पर फसल बेचने और खरीदने का भी विकल्प दिया है।

पीएम बोले इन सारे प्रयासों का लक्ष्य यही है कि किसानों की आय बढ़े, देश का किसान समृद्ध हो। जब देश का किसान समृद्ध होगा तो देश भी समृद्ध होगा।

मोदी ने कहा 2022 में, भारत स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष को पूरा करेगा। FICCI ने देश में विकास में और अपनी 100 वीं वर्षगांठ पर बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि इसकी प्रथाओं से #AatmaNirbharBharat के लिए भारत का उद्देश्य मजबूत हो।

आप को बता दे कि इस आयोजन में कई मंत्रियों, नौकरशाहों, उद्योग के मालिकों, राजनयिकों, अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों और अन्य प्रमुख उद्योगपतियों ने भाग लिया है। यह सम्मेलन विभिन्न हितधारकों को अर्थव्यवस्था पर कोरोना के प्रभाव, सरकार द्वारा किए जा रहे सुधारों और भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए आगे बढ़ने का मार्ग प्रशस्त करेगा।

Load More By Bihar Desk
Load More In देश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

तेज प्रताप और ऐश्वर्या राय की आज मुलाकात, तलाक की बात पर होगी चर्चा ! पढ़ें

ऐश्वर्या राय के तलाक के मुकदमे में आज अहम सुनवाई का दिन है। आज दोनों के बीच मुलाकात होगी। …