Home झारखंड अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस पर जारी हुआ 181 महिला हेल्पलाइन

अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस पर जारी हुआ 181 महिला हेल्पलाइन

2 second read
0
0
36

अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस

दिनांक-26 नवंबर/ रांची: 25 नवम्बर, “अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस” के अवसर पर “महिला एवं बाल विकास मंत्रालय” के निर्देशानुसार 181 महिला हेल्पलाइन, झारखण्ड द्वारा रांची जिला के विभिन्न स्थानों पर जाकर महिलाओं के प्रति बढ़ रही हिंसा के रोकथाम हेतु जागरूकता अभियान चलाया गया। जिसके अंतर्गत दिनांक 25/11/2021 को कांके प्रखण्ड के चूड़ी बस्ती, मुस्लिम टोला के आंगनबाड़ी केंद्र-17 में प्रथम शिविर एवं कचहरी रोड, नगर निगम के समीप चतुर्थ वर्ग के महिला कर्मियों के साथ द्वितीय शिविर का आयोजन किया गया। जिसमे महिलाओं और बालिकाओं के साथ बढ़ रहे अपराध जैसे घरेलू हिंसा, दहेज प्रथा, यौन शोषण, डायन बिसाही इत्यादि अपराध के प्रति सतर्क रहने हेतु कहा गया। यदि किसी महिला के साथ दुर्भाग्यवश कोई समस्या होती है तो सरकार द्वारा जारी विभिन्न हेल्पलाइन टोल फ्री नंबर 181, 100, 112 एवं 1091 पर संपर्क कर त्वरित सहायता प्राप्त कर सकती हैं। साथ ही में उक्त टोल फ्री नंबर का संचालन 24X7 होने की भी जानकारी दी गई । यदि पीड़िता/शिकायतकर्ता थाना के माध्यम से कार्रवाई नहीं चाहती हैं तो उस स्थिति में 181 महिला हेल्पलाइन द्वारा काउन्सलिंग कर समस्या का समाधान भी कराया जाता है।

दिनांक 26/11/21 को नामकुम प्रखण्ड के श्री डोरंडा बालिका उच्च विद्यालय, काली मंदिर रोड, डोरंडा, में तीसरे शिविर का आयोजन किया गया। जिसके अंतर्गत उक्त विद्यालय की कक्षा 7वीं,8वीं एवं 9वीं,10वीं की छात्राओं को दो समूहों में बांटकर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसके तहत छात्राओं को यौन उत्पीड़न, ईव टिजिंग, स्टौकिंग एवं सोशल मीडिया के माध्यम से बढ़ रहे अपराध के प्रति जागरूक रहने हेतु सतर्क किया गया। किसी प्रकार की समस्या होने पर टोल फ्री नंबर 181 संपर्क कर त्वरित सहायता प्राप्त कर सकती हैं। जागरूकता कार्यक्रम के मध्य में छात्राओं द्वारा कल्याणकारी योजनाओं से भी संबन्धित सवाल पूछे गए। जिसके फलस्वरूप 181 महिला हेल्पलाइन के कर्मी द्वारा बालिकाओं के कल्याण हेतु मुख्यमंत्री सुकन्या योजना, मुख्यमंत्री कन्यादान योजना इत्यादि की जानकारी दी गई। जागरूकता कार्यक्रम का मुख्य उद्देशय एक बालिका के माध्यम से, एक संपूर्ण परिवार को जागरूक करना है अर्थात कार्यक्रम में शामिल लगभग 100 बालिकाएँ एक साथ 100 परिवार को जागरूक कर सकती हैं।

दिनांक 27/11/ 21 को 25 नवम्बर, “अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस” के अवसर पर आयोजित जागरूकता कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं को स्वास्थय, शिक्षा एवं सुरक्षित जीवन प्रदान करना। जिसके तहत नगड़ी प्रखण्ड के राजकीयकृत + 2 उच्च विद्यालय, पिस्का नगड़ी, रांची में चौथे शिविर का आयोजन किया गया। जिसके अंतर्गत उक्त विद्यालय की 9वीं, 10वीं, 11वीं एवं 12वीं की छात्राओं को दो समूहों में बांटकर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। हालांकि विद्यालय में करीब 785 बालिकाएँ नामांकित हैं, लेकिन कोविड के कारण रोस्टर आधारित कक्षाएं संचालित होने के कारण लगभग 350 छात्राएँ ही उपस्थित थी। बालिकाओं के साथ समाज में बढ़ रही हिंसा के प्रति जागरूक किया गया। साथ ही छात्राओं को सुझाव भी दिया गया कि यदि कोई छात्रा हिंसा से प्रभावित हो रही हैं तो चुप रहकर बर्दाश्त नहीं करें बल्कि अपनी चुप्पी को तोड़ें और हो रही हिंसा के विरुद्ध अपनी आवाज़ उठाएँ। केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के संबंध में छात्राओं को जानकारी दी गई। केंद्र सरकार द्वारा संचालित किशोरियों हेतु एक नयी कल्याणकारी योजना “किशोरी कार्ड” के संबंध में भी जानकारी दी गई, जिसका उद्देशय 11 वर्ष -14 वर्ष की बालिकाओं का समुचित विकास करना है। करना। ताकि भविष्य में स्वास्थय संबन्धित समस्या उनके शिक्षा को प्रभावित नहीं करे।

कार्यक्रम का संचालन 181 महिला हेल्पलाइन के कर्मी नूतन सिंह, शालिनी पराशर, असीमा सुप्रभा खेस और हैपी मिश्रा द्वारा किया गया। उक्त जानकारी 181 की पीआरओ शालिनी पराशर ने दी।

Load More By Bihar Desk
Load More In झारखंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

कांग्रेस विधायक प्रतिमा कुमारी दास ने शराबबंदी को लेकर सरकार पर साधा निशाना, कही ये बात, पढ़ें

वैशाली जिले के राजापाकर विधानसभा की कांग्रेस विधायक प्रतिमा कुमारी दास  ने शराबबंदी क…