Home पटना कालेज के विकास के लिए जो भी बन पड़ेगा हम करते रहेंगे: सीएम नीतीश कुमार

कालेज के विकास के लिए जो भी बन पड़ेगा हम करते रहेंगे: सीएम नीतीश कुमार

5 second read
0
0
11

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पुरानी यादों में खो गए। छात्राओं को संबोधित करते हुए सोमवार को उन्होंने अपने कालेज के दिनों को याद किया। बोले, जिन दिनों हम इंजीनियरिंग कर रहे थे क्लास में एक भी लड़की नहीं थी। बहुत खराब स्थिति थी।

कालेज में कोई महिला आती थी तो सभी खड़े होकर उसे देखने लगते। मुख्यमंत्री की बातें सुन छात्राओं ने खूब तालियां बजाईं। इस दौरान सीएम ने समलैंगिकता को लेकर भी बयान दिया। तंज करते हुए कहा कि अगर लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा होगा क्या? 

नीतीश ने कहा कि उस दौरान  मेडिकल और इंजीनियरिंग में लड़कियों की भागीदारी न के बराबर थी लेकिन आज स्थिति बदली है। अब सभी क्षेत्रों में लड़कियों का दबदबा बढ़ रहा है। मगध महिला कालेज से जुड़ी यादें साझा करते हुए उन्होंने कहा कि 2019 में यहां पर दो बार आने का मौका मिला था। यहां से मेरी पत्नी और छोटी बहन ने भी पढ़ाई की है।

नीतीश कुमार ने कहा कि कालेज के विकास के लिए जो भी बन पड़ेगा हम करते रहेंगे। बेटियों से हीं बिहार आगे बढ़ रहा है। छात्रावास के बारे में कहा कि यहां पढ़ने वाली बेटियों को अब किसी भी चीज के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। यहां सारी सुविधाएं मुहैया कराई जाएगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी मेडिकल व इंजीनियरिंग कालेजों में नामांकन के लिए महिलाओं को 35 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है। इस दर को धीरे-धीरे और बढ़ाया जाएगा।

महिलाओं की मांग पर शराबबंदी, दहेज मुक्ति अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिनके कार्ड पर दहेज मुक्त विवाह लिखा रहता है, उन्हीं की शादी में ही वे जाएंगे। उन्होंने छात्राओं से भी ऐसा करने का आह्वान किया। 

Load More By Bihar Desk
Load More In पटना

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also

सवाल पूछने पर भड़के RCP सिंह,कहा- मैं किसी का हनुमान नहीं, मेरा नाम रामचंद्र

केंद्रीय इस्पात मंत्री और जेडीयू के नेता आर.सी.पी सिंह एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने के…